वैज्ञानिक सत्संग का आयोजन

अशोक शर्मा, बाराचट्टी

भारतीय संविधान की धारा 51 ए में वर्जित मूल कर्तव्यों के तहत देश एवं समाज में वैज्ञानिक दृष्टिकोण मानववाद तथा जिज्ञासा की भावना का प्रचार प्रसार करना है ताकि अंधविश्वास से मुक्त समाज की स्थापना हो सके जो राष्ट्र की एकता एवं अखंडता के लिए जरूरी है सत्संग सर्वप्रथम राष्ट्रगान के साथ किया गया कोबरा विजय मंत्र का पाठ किया गया तथा डॉक्टर रामनाथ द्वारा लिखित पुस्तक पटकथा तीसरी आजादी के प्रथम दृश्य का वाचन किया गया जो सिंधु घाटी सभ्यता कथा युक्त समय संबंध द्वारा अंगुलिमाल के हृदय परिवर्तन से संबंधित है युक्त सत्संग ग्राम भाग्य के निवासी तथा प्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता श्री पेरू महतो की अध्यक्षता में आयोजन किया गया जिसमें स्वर्ग अजय कुमार विनोद प्रसाद विरोधी अशोक कुमार राजकिशोर सिंह श्याम सुंदर प्रसाद प्रसिद्ध सिंह तथा श्रीमती निर्मला देवी के अलावा अन्य लोग उपस्थित थे इस वैज्ञानिक सत्संग का आयोजन आयोजक अजय कुमार द्वारा रखा गया और हर माह के पहला रविवार को सत्संग किया जाएगा

Leave a Reply