अमेरिका ताइवान की सैन्य शक्ति को लगातार मजबूत कर रहा है

चीन की चेतावनी के बावजूद अमेरिका ताइवान की सैन्य शक्ति को लगातार मजबूत कर रहा है। पिछले दिनों हुए समझौते के तहत अमेरिका की सरकार ने ताइवान को 60 करोड़ डॉलर (करीब 44 सौ करोड़ रुपये) के सशस्त्र ड्रोन बेचने को मंजूरी दे दी है।

  • विदेश विभाग ने इस जानकारी की पुष्टि करते हुए कहा है कि ताइवान को रिमोट संचालित सशत्र ड्रोन व अन्य उपकरण देने की प्रक्रिया मंजूर कर ली गई है।
  • इनके मिलने के बाद ताइवान को अपनी सुरक्षा, सैन्य संतुलन और राजनीतिक स्थिरता में मदद मिलेगी।
  • ज्ञात हो कि पिछले सप्ताह ही अमेरिकी सरकार ने ताइवान को 237 करोड़ डालर की हार्पून मिसाइल बूेचने पर सहमति दी थी। 
  • चीन ने विरोध जताते हुए हथियारों को सप्लाई करने वाली कंपनियों पर प्रतिबंध लगाने की धमकी दी थी।
  • दरअसल चीन ताइवान को अपना अलग हुआ प्रांत बताकर उस पर अधिकार जताता है, जबकि ताइवान का कहना है कि वह संप्रभु देश है।
  • अन्य मुद्दों के साथ ही ताइवान को हथियार दिए जाने से चीन-अमेरिका के बीच तनाव बढ़ रहा है।