100 रुपए का स्मारक सिक्का पीएम मोदी ने आज एक वर्चुअल कार्यक्रम के जरिए जारी किया

जनसंघ की संस्थापक सदस्य और बीजेपी की वरिष्ठ नेता रहीं राजमाता विजयाराजे सिंधिया की 100 वीं जयंती के मौके पर पीएम मोदी ने आज 100 रुपए का स्मारक सिक्का जारी किया.

  • पीएम मोदी ने यह सिक्का एक वर्चुअल कार्यक्रम के जरिए जारी किया.
  • इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने उनके व्यक्तित्व पर चर्चा करते हुए कहा कि पिछली शताब्दी में भारत को दिशा देने वाले कुछ व्यक्तित्वों में राजमाता विजयाराजे सिंधिया भी शामिल थीं.
  • राष्ट्र के भविष्य के लिए राजमाता ने अपना वर्तमान समर्पित कर दिया.
  • देश की भावी पीढ़ी के लिए उन्होंने अपना हर सुख त्याग दिया था. राजमाता ने पद और प्रतिष्ठा के लिए न जीवन जिया, न राजनीति की.

राजमाता विजयाराजे सिंधिया की 100 वीं जयंती के मौके पर पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि तीन तलाक के खिलाफ कानून बनाकर देश ने राजमता सिंधिया के महिला सशक्तिकरण के दृष्टिकोण को आगे बढ़ाया.

राजमाता सिंधिया की याद में 100 का सिक्का जारी

वहीं गृह मंत्री अमित शाह ने भी राजमाता की 100वीं जयंती के मौके पर ट्वीट कर उन्हें याद किया और लिखा कि राजमाता सिंधिया जी ने अपने त्याग और राष्ट्रभक्ति से देश की राजनीति को नई दिशा दी. राष्ट्र और विचारधारा के प्रति उनका समर्पण वंदनीय था.

राजमाता विजयाराजे सिंधिया की बेटी और राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधराराजे सिंधिया ने भी अपनी मां और राजमाता को याद करते हुए ट्वीट किया, और उन्हें समाज सेवा, स्नेह और समर्पण की मूरत बताया.

विजयाराजे सिंधिया ग्वालियर की राजमाता और कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे माधवराव सिंधिया की मां थीं. उनके राजनीतिक सफर की शुरुआत कांग्रेस के साथ ही. करीब एक दशक बाद उन्होंने कांग्रेस का साथ छोड़ दिया. राजमाता विजयाराजे सिंधिया जनसंघ की संस्थापक सदस्य थीं. जनसंघ की स्थापना 21 अक्टूबर 1951 को हुई थी, साल 1980 में जब बीजेपी की स्थापना हुई तो राजमाता बीजेपी की भी संस्थापक सदस्य रहीं.