घर में जाकर पढ़ाने वाले शिक्षक सम्मानित , मेरा विद्यालय मेरा गौरव अभियान के अंतर्गत प्रतियोगिता

सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले में गरीब बच्चों को अपने संसाधन उपलब्ध करा कर या घर में जाकर पढ़ाने वाले शिक्षक सम्मानित होंगे।

  • इसके लिए विभाग की ओर से ब्लॉक जिला और प्रदेश स्तरीय प्रतियोगिता आयोजित कराई जा रही है। 
  • विभाग की ओर से मेरा विद्यालय मेरा गौरव अभियान के अंतर्गत तीन अलग-अलग वर्गो में प्रतियोगिता कराई जा रही है।
  • निदेशक अकादमिक शोध एवं प्रशिक्षण सीमा जौनसारी की ओर से जारी आदेश में ब्लॉक और जिला स्तरीय प्रतियोगिताएं 30 अक्टूबर तक संपन्न होनी हैं। 
  • प्रतियोगिता की पहली श्रेणी में आकर्षक विद्यालय भवन प्रतियोगिता, दूसरी में फुलवारी प्रतियोगिता तथा तीसरी में शिक्षक द्वारा सर्वोच्च नवाचारी प्रयास प्रतियोगिता रखी गई है। प्रतियोगिता में भवन की सुंदरता के साथ सुंदर फुलवारी बनाई जानी है।
  • इसके अलावा लॉकडाउन के दौरान जिन शिक्षकों ने ऑनलाइन के साथ ही जिन गरीब बच्चों के पास मोबाइल, लैपटॉप, टीवी आदि की व्यवस्था नहीं है उन्हें अपने संसाधनों से पढ़ाया है उन्हें विशेष रूप से पुरस्कृत किया जाएगा।
  • ऐसे शिक्षकों के 3 से 5 मिनट के वीडियो और 8-10 फोटोग्राफ भेजे जाएंगे।
  • ब्लॉक और जिला स्तर पर प्रत्येक दो-दो उत्कृष्ट विद्यालय का चयन किया जाएगा। ब्लॉक और जिला स्तरीय प्रतियोगिताओं के लिए 30 अक्तूबर तक का समय निर्धारित किया गया है।

उच्चीकृत के बाद भी प्रवेश नहीं मिलने से अभिभावक परेशान 

  • बेतालघाट। राजीव गांधी अभिनव आवासीय विद्यालय बेतालघाट को उच्चीकृत की संस्तुति मिलने के बावजूद इंटर की कक्षाएं शुरू नहीं हो सकी हैं।
  • ऐसे में हाईस्कूल के बाद 11वीं में प्रवेश नहीं मिलने पर अभिभावक परेशान हैं। उन्हें आगे की पढ़ाई के लिए अन्यंत्र जाना पड़ रहा है।
  • हालांकि विद्यालय प्रबंधन ने कुछ बच्चों को राजीव गांधी नवोदय विद्यालय कोटाबाग भेजने का फैसला लिया है, लेकिन इसमें अधिकांश छात्र शामिल नहीं हो पा रहे हैं।
  • क्षेत्रवासी बंसी बेलवाल, पानदेव रिखाडी, नवीन, महेश, बालम बोहरा ने विद्यालय में इंटर तक की कक्षाएं संचालित करने की मांग की है।