नीतीश के बयान के कई मायने निकाले जा रहे हैं चुनाव प्रचार के अंतिम दिन ‘यह उनका अंतिम चुनाव है’

‘इमोशनल कार्ड’ वैसे नीतीश की पहचान सधे, मंझे और गूढ राजनेता के रूप में रही है। कहा जाता है कि नीतीश बिना सोचे समझे कोई बयान नहीं देते हैं और … Read More