ग्रामवासियों ने पेश की विकास से सम्बन्धित अनेक योजनाएं

usn23416-(1) सितारगंज। ग्राम नकुलिया स्थित राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में ’’ग्राम उदय से भारत उदय‘‘ अभियान के अन्तर्गत ग्राम सभा की खुली बैठक का आयोजन जिलाधिकारी अक्षत गुप्ता की अध्यक्षता में किया गया। इस बैठक में उपसचिव कृशि एवं सहकारिता भारत सरकार पीसी पाण्डे ने बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग किया। ग्राम सभा की खुली बैठक में ग्रामवासियों द्वारा गांव के विकास से सम्बन्धित अनेक योजनाएं पेष की गई। जिनमें से प्राथमिकता के आधार पर योजनाओं का चयन किया गया। श्री पाण्डे व जिलाधिकारी ने संयुक्त रुप से 17 लाभार्थियों को स्वजल योजना के तहत षौचालय निमार्ण पर दी जाने वाली प्रोत्साहन राषि रुपये 12-12 हजार के चैक भी वितरित किये।

बतौर मुख्य अतिथि बोलते हुए श्री पाण्डे ने कहा कि ’’ग्राम उदय से भारत उदय‘‘ अभियान ग्राम पंचायतों के समग्र विकास के मकसद से चलाया जा रहा हैं ताकि ग्रामवासियों की आवष्यक जरुरतों के हिसाब से योजनाओं को मूर्त रुप दिया जा सके। उन्होंने कहा कि आज ग्राम सभा की खुली बैठक में अधिक से अधिक महिलाओं की उपस्थिति हर्श का विशय है तथा ग्राम सभा में महिलाओं की अधिक से अधिक भागीदारी विकास का षुभ संकेत है। उन्होंने कहा कि जिस क्षेत्र में महिलाएं ग्राम सभा की खुली बैठकों में हिस्सा लेकर विकास योजनाओं के प्रस्ताव रखेंगी, उस क्षेत्र का निष्चित रुप से ही चहुंमुखी विकास होगा। श्री पाण्डे ने कहा कि जिले के औचक निरीक्षण के दौरान यही पाया गया कि इस क्षेत्र में अधिकारियों द्वारा अच्छा कार्य किया जा रहा है। उन्होंने ग्रामवाािसयों से कहा कि सरकार द्वारा संचालित योजनाओं में समय-समय पर बदलाव होता रहता है जिसके कारण कुछ लोग योजनाओं का लाभ पाने से वंचित रह जाते हैं तथा अधिकारियों पर दोशारोपण करते रहते हैं। उन्होंने कहा कि ग्रामीण अधिकारियों की कार्यषैली पर सन्देह न करें अपितु सम्बन्धित अधिकारियों से योजनाओं के बारे में स्पश्ट जानकारी प्राप्त करें।

usn23416-(2)बैठक में जिलाधिकारी अक्षत गुप्ता ने कहा कि 14 से 24 अप्रेल तक चलने वाले ’’ग्राम उदय से भारत उदय‘‘ अभियान के सफल संचालन हेतु सभी अधिकारियों को लगातार निर्देष जारी किये जा रहे हैं। ग्रामवासी भी खुली बैठकों में प्रतिभाग कर अपने-अपने क्षेत्र की विकास योजनाओं को उनके सम्मुख रखकर अभियान को सफल बनाने में अपना सहयोग प्रदान करें। उन्होंनंे कहा कि आज ग्रामीणों द्वारा जो विकास योजनाएं प्रस्तुत की गई हैं, उनमें से चयनित प्राथमिक योजनाओं पर षीघ्र ही कार्य षुरु कर दिया जायेगा। उन्होंनंे कहा कि वर्श 2016-17 में विभिन्न योजनाओं में समन्वय स्थापित करते हुए डवटेलिंग के माध्यम से कार्य करवाएं जायेगें। इससे जहां मनरेगा के मजदूरों को रोजगार मिलेगा वहीं विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत प्राप्त धनराषि से योजनाओं में समन्वय बनाते हुए अधूरे पडे़ निमार्ण कार्याें को भी षीघ पूरा किया जायेगा। उन्होंने कहा कि महिला स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं को उनके हुनर के हिसाब से मनरेगा के अन्तर्गत रोजगार प्रदान किया जायेगा। उन्होंने कहा कि जिला प्रषासन ने षपथ ली है कि एक वर्श के भीतर जनपद के हर घर में षौचालय बनाया जायेगा तथा जनपद को खुले में मल त्याग की प्रथा से मुक्त कर दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि षौचालय निमार्ण पर दी जाने वाली प्रोत्साहन राषि का भुगतान भी षीघ्र ही कर दिया जायेगा।

उन्होंने कहा कि जिन लोगों के पास अपना घर नहीं हैं उन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत अपना घर बनाकर दिया जायेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि  स्वास्थ्य और षिक्षा हर नागरिक की प्राथमिक जरुरते हैं। इसको दृश्टिगत रखते हुए जनपद में जिला प्रषासन द्वारा ’’मिषन पोणण आरोहण‘‘ व ’’मिषन आगाज‘‘ योजनाएं चलायी जा रही हैं। उन्होंने कहा कि मिषन पोशण आरोहण के अन्तर्गत जनपद में निवासरत 432 अतिकुपोशित/ कुपोशित बच्चों को अधिकारियों द्वारा गोद लिया गया है, जबकि मिषन आगाज के अन्तर्गत कूडा बीनकर व भींख मांगकर जीविकोपार्जन करने वाले बच्चों को षिक्षत किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सितारगंज में भी षीघ्र ही मिषन आगाज का षुभारम्भ किया जायेगा। इस दौरान ग्रामवासियों ने जिलाधिकारी को अपने क्षेत्र की विभिन्न समस्याओं से भी अवगत कराया। ग्राम बमनपुरी के वाािसयों ने स्टोन क्रषर हटाये जाने, विद्यालय प्रबन्ध समिति की अध्यक्ष हेमादेवी ने विद्यालय की चहार दीवारी बनाने, हरबंष सिंह ने विकलांग प्रमाण पत्र बनाने,  नकुलिया के ग्रामवासियों ने राय सिक्ख बस्ती को कैलाष नदी की बाढ से बचाने हेतु ठोकरों के निमार्ण की मांग की। प्राप्त समस्याओं के निराकरण हेतु जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देष दिये।