मृतक परिवारो के आश्रितो के घर जाकर शिक्षा मंत्री ने दी सात्वना

अल्मोड़ा। विगत 07 दिसम्बर, 2017 को अल्मोड़ा के समीप हुई 02 वाहन दुर्घटनाओं में मृतक परिवारो के आश्रितो के घर जाकर प्रदेश के मा0 शिक्षा मंत्री अरविन्द पाण्डे ने बतौर मुख्यमंत्री के प्रतिनिधि के रूप में सात्वना दी। उन्होंने कहा कि शोक संतप्त परिवार के प्रति मा0 मुख्यमंत्री ने गहरा दुख प्रकट करते हुए कहा है कि पीड़ित परिवार को सरकार द्वारा हर सम्भव सहायता दी जायेगी। मा0 शिक्षा मंत्री आज स्व0 श्रीमती लक्ष्मी साही के घर पर गये जहाॅ पर उन्होंने उनके पति नरेन्द्र साही व पुत्र यशवद्र्वन एवं जेठ राजेन्द्र साही को ढाढसा दिलाकर कहा कि दुख की इस घड़ी में हम सब आपके साथ है आपने जिस साहस का परिचय दिया है वह हम सब के लिए अनुकरणीय है।

उन्होंने उनके पति से काफी देर तक बात की और कहा कि अब साहस रखकर बच्चो को देखना होगा। इसके बाद वे स्व0 एम0सी0 पंत के घर गये जहा पर वे उनके वयोवृद्व पिता कमलाकान्त पंत व पत्नी भावना पंत से मिले और उन्हें इस दुख की घड़ी को सहने के लिए भगवान से साहस देने की कामना की। इस अवसर पर उन्हें एक आवेदन पत्र पारिवारिक जनो ने सौंपा जिसमें उनकी पत्नी को नौकरी दिलाने का उल्लेख था जिस पर मानवीय दृष्टिकोण अपनाते हुए मा0 शिक्षा मंत्री ने उपस्थित अपर निदेशक शिक्षा मुकल सती को निर्देश दिये कि शीघ्र ही शिक्षा विभाग में आउटसोर्सिंग के माध्यम से नियुक्तिया की जा रही है उसमें इनके आवेदन पत्र को प्राथमिकता देकर इन्हें सेवायोजित करने का प्रयास किया जाय। उपस्थित युवा कल्याण अधिकारी को निर्देश दिये कि इन्हें प्रान्तीय रक्षा दल का प्रशिक्षण दिलाकर प्रमाण पत्र शिक्षा विभाग को उपलब्ध करा दें ताकि इन्हें सेवायोजित किया जा सके। उन्होंने उनके छोटे-छोटे बच्चो से भी बात की और कहा कि जब भी जो परेशानी आयेगी निःसंकोच दूरभाष पर मुझे अवगत करा दें साथ ही हमारे स्थानीय जनप्रतिनिधियों से भी आप अपनी परेशानी बता सकते है।

उन्होंने उनके छोटे-छोटे बच्चो से भी बात की और कहा कि जब भी जो परेशानी आयेगी निःसंकोच दूरभाष पर मुझे अवगत करा दें साथ ही हमारे स्थानीय जनप्रतिनिधियों से भी आप अपनी परेशानी बता सकते है। मा0 शिक्षा मंत्री मृतक शिक्षिका स्व0 गीता नयाल के पैतृक गाॅव भगतोला भी गये जहा पर उन्होंने छोटे-छोटे बच्चो को ढाढसा दिलाया और पारिवारिक जनो से कहा कि दुख की इस घड़ी में प्रदेश सरकार उनके साथ है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि उनके छोटे बच्चे अपने आप को निःसहाय न समझे उनकी हर परेशानी को प्रदेश शासन व जिला प्रशासन दूर करेगा। इसके बाद वहा से लौटकर वे स्व0 कमलाकान्त बावड़ी के घर भी गये और शोक संतप्त परिवार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की। इससे पूर्व शिक्षा मंत्री ने आज उक्त दुर्घटना में घायल हुए मरीजो के साथ हल्द्वानी में अस्पताल में जाकर उनका हालचाल पूछा और डाक्टरो से कहा कि उनके इलाज में किसी प्रकार की लापरवाही न बरती जाय। इस अवसर पर उनके साथ पूर्व विधायक कैलाश शर्मा, नगर भाजपा जिलाध्यक्ष कैलाश गुरूरानी, पूर्व अध्यक्ष अरविन्द बिष्ट, राजेन्द्र सिंह बिष्ट, सभासद श्याम पाण्डे, विद्या बिष्ट, सुनील जोशी, महिला भाजपा कार्यकता किरन पंत, उपजिलाधिकारी विवेक राय, जिला शिक्षाधिकारी माध्यमिक हर्ष बहादुर चन्द्र, बेसिक राय साहब यादव, पुलिस उपाधीक्षक आर0एस0 टोलिया सहित युवा कल्याण अधिकारी, सहायक पंचायत राज अधिकारी सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply