अगले हफ्ते हो सकती है जयशंकर और वांग यी की मुलाकात

चीन के अगले कदम पर भारत की नजर, अगले हफ्ते हो सकती है जयशंकर और वांग यी की मुलाकात

भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में सीमा विवाद जारी है। इसी बीच भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मॉस्को में अपने चीनी समकक्ष वेई फेंगही के साथ उच्च स्तरीय बैठक की। मई की शुरुआत में शुरू हुए गतिरोध के बाद दोनों मंत्रियों की यह पहली बैठक थी। वहीं नौ से 11 सितंबर तक विदेश मंत्री एस जयशंकर मॉस्को में होंगे। माना जा रहा है कि यहां जयंशकर और उनके चीनी समकक्ष वांग यी के बीच बैठक हो सकती है।

दूसरी तरफ नई दिल्ली में बैठे अधिकारियों का कहना है कि वे देखना होगा कि वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर वेई पूरी तरह से सेना को पीछे हटाने के लिए बीजिंग के उच्च अधिकारियों को मना पाते हैं या नहीं। जहां एक तरफ दोनों पक्ष गतिरोध की स्थिति में हैं और बैठक के बाद आधिकारिक बयान जारी कर चुके हैं। ऐसे में भारत की नजर जमीन पर चीन के अगले कदम पर है।
साउथ ब्लॉक का मानना है कि इस बार चीन का संकट के समाधान के लिए उसकी प्रतिबद्धता और ईमानदारी को लेकर परीक्षण किया जाएगा। खासतौर पर तब जब भारतीय जवानों ने चुशूल सेक्टर में एलएसी की सामरिक ऊंचाइयों पर कब्जा कर लिया है। सैन्य कमांडरों और राजनयिकों के बीच शुक्रवार तक व्यक्तिगत रूप से बातचीत हुई थी।