अन्यथा एनएचआई के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी

DSCN0023रूद्रपुर। जिलाधिकारी अक्षत गुप्ता द्वारा आज राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण,गल्फार,एचजी इन्फ्रा लि0 के प्रोजेक्ट मनेजरो व उप जिलाधिकारियों के साथ कलक्टेªट सभागार में रा0रा0मार्ग के चैडीकरण किये जा रहे कार्यो की समीक्षा की। उन्होने स्पष्ट करते हुये कहा कि कार्यदायी संस्थाओं व उप जिलाधिकारियो को जो आज निर्देश दिये गये है उनका  सख्ती से पालन करें। निर्देशो का पालन न करने वाले कार्यदायी संस्थाओं के प्रोजेक्ट मनेजरो व उप जिलाधिकारियों के साथ सख्त कार्यवाही की जायेगी। जिलाधिकारी ने पूर्व में एनएचआई के डीजीएम अनुज कुमार को निर्देश दिये थे कि चैडकरण के कार्यो में जो अतिक्रमण हटाये जाने है उनकी सूची उप जिलाधिकारियों को प्रस्तुत की जाय। लेकिन अभी तक पूरी सूची उप जिलाधिकारियों को उपलब्ध न कराने पर जिलाधिकारी ने कहा सभी उप जिलाधिकारियो को दो दिन के अन्दर सूची उपलब्ध कराये अन्यथा एनएचआई के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी।

उन्होने जल निगम,जल संस्था व विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा कि पेय जल व विद्युत की जो लाईनो को शिफ्ट करने के लिये कार्यदायी संस्थाओ द्वारा धनाराशि उपलब्ध करा दी गयी है उस कार्य को शीघ्र करें। उन्होने कहा प्रत्येक सप्ताह किये जाने वाले  कार्यो की योजना बनाकर प्रस्तुत करे ताकि योजना के अनुसार कार्य किये जा सके। उन्होने कहा सभी विभाग आपस में सामंजस्य बनाकर चैडकरण के कार्यो में तेजी लाये। उन्होने कहा आपसी विवाद के कारण जहा पर चैडीकरण के कार्य नही हो पा रहे है वहा पर सम्बन्धित उप जिलाधिकारी, विशेष भूमि अध्यापित अधिकारी व एनएचआई के प्रोजेक्ट मनेजर सम्बन्धितो से बात कर मामले को सुलझाकर कार्य शीघ्र प्रारम्भ कराये।

उन्होने कहा जिस क्षेत्र में चैडीकरण का कार्य हो रहा है इसकी सूचना बीएसएनएल के अधिकारियों को भी दी जाय ताकि वें अपनी ओएफसी लाइन को सुरक्षीत रख सकें। जिलाधिकारी न कहा अभी भी जिन लोगो को भूमि का मुआवजा नही मिला है कैम्प लगाकर सम्बन्धितो को मुआवजा उपलब्ध कराया जाय। उन्होने कहा जिस भूमि का मुआवजा दे दिया गया है कार्यदायी संस्था उसे अपने कब्जे मे लेकर चैडीकरण का कार्य प्रारम्भ करें। जिलाधिकारी न बताया चैडीकरण के कार्यो में जो 62 पेड काटे जाने है वन निगम के अधिकारी व विद्युत विभाग के अधिकारी आपस मे सामन्जस्य बनाते हुये इस कार्य को पूरा करे।

जिलाधिकारी ने चैडीकरण के कार्यो में तेजी लाने के लिये अतिक्रमण हटाने हेतु अपर जिलाधिकारी आशीष भटगई हेण्डपम्प,विद्युत पोल,ट्रंासफार्मर,पेय जल लाइन व पेडो को हटाने हेतु अपर जिलाधिकारी दीप्ति वैश्य को नोडल अधिकारी बनाया गया है। उन्होने एनएचआई के अधिकारियो को निर्देश देते हुये कहा कि जो चैडीकरण के कार्यो में जो अतिक्रमण हटाये जाने है उनमे मार्किगं(चिन्हित) भी किया जाय। उन्होने कहा जल निगम,जल संस्था व विद्युत विभाग द्वारा जो कार्य किये जा चूके है उसकी सूची उपलब्ध करायी जाय ताकि उसे रिकार्ड हेतु सुरक्षित रखा जा सकंे। जिलाधिकारी ने जल संस्थान के अधिकारी को निर्देश दिये कि चैडीकरण के कार्यो में जो बडी पांच पेय जल योजनाये अन्यत्र शिफ्ट की जानी है उनकी शीघ्र निविदा आमंत्रित कर इस कार्य को शीघ्र प्रारम्भ कराये।

बैठक में अपर जिलाधिकारी आशीष भटगई व दीप्ति वैष्य उप जिलाधिकारी विजय जोडण्डे,एपी बाजपेयी,पूरन सिंह राणा,ऋचा सिंह,डीपी सिंह,अनिल शक्ला,जल संस्था के ईई तरून शर्मा,ईई जल निगम पीसी लोहनी,एनएचआई के डीजीएम अनुज कुमार,गल्फार के संतोष शर्मा,पीके चैधरी,एचजी इन्फ्रा दीपक,ईई विद्युत वीके पांडे सहित अनेक लोग उपस्थित थे।