महाविद्यालयों में प्राचार्यों एवं प्रोफेसरों की हुयी नियुक्ति

अल्मोड़ा। मा0 उच्च षिक्षा, सहकारिता राज्य मंत्री डा0 धन सिंह रावत ने आज राजकीय महाविद्यालय चैखुटिया में षौर्य दीवार का लोकापण किया। इस कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड वीरों की जन्म भूमि है इससे हमें प्रेरणा मिलती हैं। षौर्य दीवार वीरों के अदम्य साहस एवं उनके योगदान की याद दिलाती है। उन्होंने कहा कि महाविद्यालयों में गुणवत्तापूर्ण षिक्षा के लिये कालेजों में 180 दिन की पढ़ाई अनिवार्य सहित अनेक ठोस निणर्य लिये गये है। सभी महाविद्यालयों में प्राचार्यों की नियुक्ति एवं प्रोफेसरों की नियुक्ति भी कर दी गयी है।

मा0 म्ंात्री ने कहा कि 75 प्रतिषत से कम हाजिरी वाले छात्रों को परीक्षा में नही बैठने दिया जायेगा स्वयं मैने 2300 छात्रों को अनुपस्थिति पर पत्र भेजा है। मार्च 2018 तक प्रत्येक महाविद्यालय में किताबें उपलब्ध करा दी जायेगी। पुस्तक दान अभियान कार्यक्रम के जरिए 10 लाख किताबें एकत्रित करने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने कहा कि जनपद में 13 डिग्री कालेजो में आईएएस, आईपीएस, आईएफएस एवं पी0सी0एस0 के अधिकारी व्याख्यान देंगे और वहां छात्रों को कोचिंग करायेंगे। उन्होंने कहा कि सुपर-30 के बाद अब सुपर-100 के अन्तर्गत छात्रों को आईआईटी, एमबीबीएस की निःषुल्क कोंचिग दी जायेगी ताकि प्रतिभागियों को आगे बढ़ने का मौका मिल सके।

मा0 मंत्री ने कहा कि 2019 तक उत्तराखण्ड को पूर्ण साक्षर बनाने का रखा लक्ष्य गया है। इस हेतु प्रत्येक डिग्री कालेज के छात्र द्वारा 3 निरक्षरों को साक्षर बनाया जायगा। रक्तदान महादान अभियान के अन्तर्गत 1 लाख यूनिट रक्त एकत्रित करने का लक्ष्य है जिसमें अभी तक 23 हजार छात्र-छात्राओं ने रक्तदान किया गया है। नषामुक्ति रोकने के लिये कालेज परिसर के 200 मी0 की परीधि में षराब, बीडी, सिगरेट,गुटका पान की दुकानें प्रतिबंधित की गयी है।

मा0 मंत्री ने कहा कि महाविद्यालयों में छात्र-छात्राओं सहित सभी स्टाफ का षून्य बैंलेस से 02 लाख तक का बीमा करवाया जा रहा है। विदेष मे पढाई करने वाले कमजोर वर्ग के छात्रों को 50 लाख तक का षिक्षा ऋण एवं देष में 25 लाख तक का ऋण दिया जायेगा। उन्होंने छात्र-छात्राओं को अपने लक्ष्य की प्र्राप्त करने के लिये कठोर परिश्रम करने को कहा। उन्होंने विष्वास दिलाया कि 30 जनवरी तक महाविद्यालय का भवन तैयार हो जायेगा। उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राओं की उपलब्धता एवं सर्वे कराकर बी0एस0सी0 की कक्षाऐं भी संचालित की जायेगी साथ ही एक सप्ताह के भीतर महाविद्यालय में अंग्रेजी के प्रोफेसर की भी तैनाती कर दी जायेगी।

कार्यक्रम में उपस्थित मा0 विधायक द्वाराहाट महेष नेगी एवं विधायक सल्ट सुरेन्द सिंह जीना ने छात्र-छात्राओं को सम्बोधित करते हुये कहा कि उच्च षिक्षा में जो षैक्षणिक माहौल मा0 मंत्री के आने के बाद हुआ वह प्रेरणा स्त्रोत है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा प्रत्येक गांव में सड़क सहित दूरस्थ क्षेत्रों के व्यक्ति तक विकास पहुॅचाने का लक्ष्य है। महाविद्यालय की प्रार्चाया ने मा0 मंत्री जी का स्वागत करते हुये उन्हें महाविद्यालय की अनेक समस्याओं से अवगत कराया जिसका निस्तारण करने का आष्वासन मा0 मंत्री जी द्वारा दिया गया।

इस कार्यक्रम में भाजपा जिला अध्यक्ष गोविन्द पिलख्वाल, उपजिलाधिकारी फिंचाराम चैहान, प्रार्चाया डा0 रेनू श्रीवास्तव, ऋषि काण्डपाल, महेष मेहरा सहित अनेक गणमान्य लोग महाविद्यालय के छात्र-छात्राएं, षिक्षक-षिक्षिकायें उपस्थित थें। कार्यक्रम का संचालन महाविद्यालय के प्रोफेसर डा0 मनोरम मिश्र ने किया।

Leave a Reply