आपदा… पूर्ण हैं सभी तैयारियां : सेमवाल

dbs-dm-haridwar-23पिथौरागढ़। आगामी मानसून काल के दृष्टिगत जनपदस्तर पर पूर्व तैयारियों के संबंध में प्रदेश के अपर मुख्य सचिव एस0राजू व सचिव आपदा प्रबंधन अमित सिंह नेगी द्वारा वी0सी0 के माध्यम से ऐजण्डावार जनपदस्तर पर कि गयी तैयारियों के संबंध में समीक्षा करते हुए सभी तैयारियां यथासमय पूर्ण कर लेने के साथ ही किसी भी प्रकार की आपदा से निपटने हेतु जनपदस्तर योजनाबद्व रूप से तैयार रहने के निर्देश दिये।

वी0सी0 के माध्यम से जनपद पिथौरागढ़ की समीक्षा करते हुए अपर मुख्य सचिव द्वारा निर्देश दिये गये कि वर्षा काल में समस्त सड़क मार्गों की स्थिति पूर्व से सुदृण रखते हुए भूस्खलन एंव आपदा संभावित क्षेत्र का चिन्हीकरण कर इन मार्गों में पर्याप्त मात्रा में डोजर, जे.सी.बी. व अन्य मशीनी उपकरण के साथ ही कर्मचारी तैनात कर लिये जाय व सड़क बंद होने पर प्राथामिकता के साथ साथ यातायात बाहाल कर लिया जाय। इस हेतु जनपदस्तर पर एक प्लान भी तैयार कर लिया जाय ताकि आपदा के समय घटना से निपटा जा सके।

उन्होंने कहा कि जनपदस्तर पर किसी भी प्रकार की आपदा से निपटने हेतु जनपदस्तरीय डाटाबेस तैयार कर लिया जाय जिन भूस्खलन क्षेत्रों का चिन्हीकरण किया गया है उन क्षेत्रों के प्रभावितों को आपदा की स्थिति में अन्य स्थान में बसाये जाने हेतु पूर्व से ही सुरक्षित स्थानों का चिन्हीकरण कर लिया जाय वर्षा काल में जो क्षेत्र भूस्खलन की दृष्टि से अतिसंवेदनशील है उन स्थानों में संकेतक लगाने के साथ ही ऐसे क्षेत्रों में पूर्व से खोज एंव बचाव कार्य किये जाने हेतु पूर्व से ही इसकी तैयारी कर ली जाय। इसके अतिरक्त विद्युत आपूर्ति की स्थिति, संचार व्यवस्था, ईधन, खाद्यान्न, चिक्तिसा सुविधा, के साथ ही आपातकाल के समय में पुलिस, एसडीआरएफ व फायर टीम की व्यवस्था के साथ ही खोज एंव बचाव कार्य हेतु पूर्व से तैयारी कर ली जाय तथा पर्याप्त मात्रा में आपदा के उपकरण सभी  क्षेत्रों में तैनात रखे जाय।

उक्त संबंध में जिलाधिकारी एच0सी0सेमवाल ने अवगत कराया कि जनपद में आगामी मानसून काल के मद्ेनजर किसी भी आपदा से निपटने हेतु सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गयी है जनपद में 20लाख रूपये के  आपदा उपकरण क्रय कर लिये गये है शीघ्र ही सभी तहसीलों, थाना आदि क्षेत्रों में वह उपलब्ध करा दिये जायेंगे। इसके अतिरिक्त विभिन्न संवेदनशील सड़क मार्गों मंे मशीनी उपकरण तैनाती हेतु लो0नि0वि0 एंव सीमा सड़क संगठन द्वारा उपकरण रखे जाने की कारवाई की जा रही है। वी0सी0 में कैलाश मानसरोवर यात्रा की तैयारी के संबंध में पूछे जाने पर जिलाधिकारी ने अवगत कराया कि वर्तमान में उक्त मार्ग की रैकी करने एंव मार्ग की मरम्मत व अन्य व्यवस्था हेतु एक अग्रिम टीम क्षेत्र में भेजी गयी है। क्षेत्र की खाद्यान्न व्यवस्था के संबंध में जिलाधिकारी ने कहा कि आगामी 15 मई तक सभी दूरस्थ खाद्यान्न गोदामों में पर्याप्त मात्रा में खाद्यान्न उपलब्ध करा दिया जायेगा।

वी0सी0 के माध्यम से अपर मुख्य सचिव ने कहा कि ग्रीष्म काल में पेयजल की किल्लत से निपटने हेतु टैंकरों, घोडे़ व खच्चरों के माध्यम से नागरिकों को पेयजल उपलब्ध कराया जाय। उन्होंने कहा कि अगर पेयजल टैंकरों का गत वर्ष का धनराशि का भुगतान किया जाना है तो शीघ्र ही पूर्व धनराशि का भुगतान कर दिया जाय। इसके अतिरिक्त अपर मुख्य सचिव ने कहा कि अगर छोटी छोटी मद के अभाव में कोई पेयजल लाईन बंद पड़ी है तो संबंधित जिलाधिकारी उक्त लाईन के मरम्मत आदि हेतु विभाग को धनराशि आवंटित करे। उन्होंने जिलाधिकारियों को यह भी निर्देश दिये कि मानसून काल में जनपदस्तर पर सभी अधिकारी आपसी समन्वय बनाये रखते हुए किसी भी प्रकार की आपदा से निपटने हेतु तैयार रहे।

वी0सी0 के माध्यम से सचिव आपदा प्रबन्धन अमित नेगी ने कहा कि आपदा खोज एंव बचाव हेतु जनपदस्तर पर जो भी उपकरण आदि क्रय किये जाने है वह शीघ्र ही क्रय कर लिये जाये इस हेतु सभी जनपदों को पर्याप्त धनराशि आवंटित कर दी गयी है। इसके अतिरिक्त मानसून समय में जनपदस्तर पर पैट्रोल, डीजल व मिट्टी तेल तथा ए0टी0एफ0 भी अग्रिम में रखा जाय। वी0सी0 में सचिव आपदा प्रबन्धन अमित नेगी, अपर सचिव आपदा प्रबन्धन रविशंकर समेत अन्य अधिकारी उपस्थित थे। जनपद की ओर से जिलाधिकारी एच0सी0सेमवाल, मुख्य अभियंता लो0नि0वि0 सत्येंद्र शर्मा, अपर जिलाधिकारी मोहम्द नासिर, उपजिलाधिकारी सदर अनुराग आर्या, पुलिस क्षेत्राधिकारी जी0एस0कोहली समेत जिला आपदा प्रबन्धन अधिकारी समेत विभिन्न अधिकारी उपस्थित थे।