ओलंपिक 1952 के चैंपियन चार्ली मूरे का निधन

वाशिगटन। हेलंसिकी ओलंपिक 1952 में 4०० मीटर बाधा दौड़ का स्वर्ण पदक जीतने वाले अमेरिकी धावक चार्ली मूरे का निधन हो गया है। वह 91 वर्ष के थे।

विश्व एथलेटिक्स के अनुसार मूरे का अग्नाशय के कैंसर के कारण गुरुवार को निधन हो गया था। कॉर्नेल विश्वविद्यालय ने भी अपने स्कूल के पूर्व एथलेटिक निदेशक और स्टार एथलीट के निधन की पुष्टि की है।

मूरे ने 1952 ओलंपिक में 4०० मीटर बाधा दौड़ 5०.8 सेकेंड में पूरी करके स्वर्ण पदक जीता था और क्वार्टर फाइनल में बनाये गये अपने ही ओलंपिक रिकार्ड की बराबरी की थी।

उन्होंने हेलंसिकी में अमेरिका की तरफ से चार गुणा 4०० मीटर रिले में रजत पदक जीता था।ओलंपिक के बाद उन्होंने लंदन में ब्रिटिश एंपायर खेलों में 44० मीटर बाधा दौड़ में 51.6 सेकेंड के साथ विश्व रिकार्ड बनाया था।