निर्माण कार्यों की गुणवत्ता पर रखना होगा विशेष ध्यान

अल्मोड़ा। जिला योजना में स्वीकृत धनराशि का सदुपयोग समय से करने के साथ-साथ निर्माण कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान रखना होगा यह बात विकास भवन में आयोजित एक महत्वपूर्ण बैठक में मुख्य विकास अधिकारी मयुर दीक्षित ने कही। उन्होंने कहा कि समय पर धनराशि स्वीकृत करने के बाद भी जिन विभागों द्वारा अभी तक आशातित प्रगति नहीं की है वे माह दिसम्बर, 2017 के अन्त तक व्यय करना सुनिश्चित करेंगे।

जो विभाग दिसम्बर माह के अन्त तक स्वीकृत धनराशि का 50 प्रतिशत व्यय नहीं कर पातें हैं वे विभाग धनराशि वापस कर दें ताकि अन्य विभागों को दी जा सके। उन्होंने कहा कि जल निगम, जल संस्थान, लो0नि0वि0, कृषि, उद्यान, समाज कल्याण, शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यटन, खेलकूद विभाग के अधिकारी अपने कार्यों में तेजी लायें। इस बैठक में सभी विभागों ने अपने विभागों की प्रगति से अवगत कराया साथ ही अपनी परेशानियों से भी अवगत कराया जिस पर मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि समस्याओं का निदान त्वरित किया जायेगा।

जिला योजना के अलावा राज्य योजना, केन्द्र पोषित योजना, वाह्य सहायतित योजना व 20 सूत्रीय कार्यक्रमों की भी समीक्षा की गयी। 20 सूत्रीय कार्यक्रमों की समीक्षा के दौरान निर्देश दिये कि जो विभाग डी0 श्रेणी में है वे व्यक्तिगत रूचि लेकर ए श्रेणी में आने लिए अभी से प्रयास करें। टास्क फोर्स से जुड़े अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे आवंटित ग्रामों का भ्रमण कर निरीक्षण आख्या समय से देना सुनिश्चित करेंगे। उन्होने प्रत्येक विभाग की गहन समीक्षा की और कहा कि लक्ष्य को समय से पूरा करें।

उन्होंने जिला योजना से जुड़े अधिकारियों से कहा कि जो भी धनराशि स्वीकृृत की गयी है उसका समय से व्यय हो इस पर हमें ध्यान रखना होगा। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में जिला योजना अन्तर्गत जो कार्य किये जाने है उनको प्राथमिकता दी जाय। इस महत्वपूर्ण बैठक में जिला विकास अधिकारी मो0 असलम, अर्थ एवं संख्याधिकारी जी0एस0 कालाकोटी, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 निशा पाण्डे, अपर संख्याधिकारी सुनीता मल्होत्रा सहित जिला योजना से जुड़े सभी अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply