ब्रिटेन की अदालत में नीरव मोदी के प्रत्यर्पण पर दूसरे चरण की सुनवाई शुरू

ब्रिटेन की अदालत में आज सोमवार से भगोड़े हीरा व्यापारी नीरव मोदी के प्रत्यर्पण के मामले की दूसरे चरण की सुनवाई शुरू हो गई।कोरोना प्रतिबंधों के मद्देनजर अदालत ने नीरव को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से पेश होने निर्देश दिए थे। नीरव दक्षिण लंदन के वैंड्सवर्थ जेल से वीडियो लिंक के माध्यम से सुनवाई में मौजूद हुआ। मार्च में गिरफ्तारी के बाद से ही वह लंदन की जेल में बंद है।  लंदन के वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में यह सुनवाई पांच दिन तक चलेगी।

नीरव मोदी पर पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) से करीब 14,000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के आरोप हैं।ब्रिटेन की क्राउन अभियोजन सेवा (सीपीएस) के जरिए भारत सरकार ने नीरव के प्रत्यर्पण को लेकर लंदन स्थित वेस्टमिंस्टर अदालत में मुकदमा दायर दाखिल किया है।

यदि सब कुछ समयबद्ध ढंग से चला तो पांच दिन चलने वाली यह सुनवाई शुक्रवार को खत्‍म हो सकती है। न्यायाधीश गूजी ने मई में प्रत्यर्पण के पहले चरण की सुनवाई की अध्यक्षता की थी। तब ब्रिटेन की ओर से मोदी के खिलाफ धोखाधड़ी और धन शोधन का एक प्रथम दृष्टया केस चलाने का अनुरोध किया गया था। भारत सरकार द्वारा साक्ष्य जमा करने के बाद दलीलों को पूरा करने के लिए आगामी सुनवाई की जाएगी।