5 सितबंर को वर्चुअल इवेंट के जरिए नेशनल टीचर्स अवॉर्ड 2020 में टीचर्स का सम्मान किया: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

5 सितबंर को भारत में शिक्षक दिवस एक बड़े त्योहार के रूप में मनाया जाता है. इस दिन को भारत के दूसरे राष्ट्रपति और प्रथम उपराष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के सम्मान में मनाया जाता है. उनका जन्म 5 सितंबर 1888 को हुआ था. 1962 से उनके जन्मदिन को ही शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है.

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने एक प्रसिद्ध विचार में कहा था, “यदि मेरा जन्मदिन मनाने के बजाय 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है, तो यह मेरा गौरवपूर्ण विशेषाधिकार होगा.”

इस दिन, छात्र पूरे देश में अपने शिक्षकों का सम्मान करते हैं और उनका आशीर्वाद लेते हैं. कई स्कूल में सीनियर्स को टीचर बनने का भी मौका मिलता है. मगर इस साल वक्त कोरोना वायरस के कारण स्कूल-कॉलेज बंद हैं तो जाहिर है ऑनलाइन ही शिक्षक दिवस मनाया जाएगा.

teachers day special

राष्ट्रपति ने किया टीचर्स का सम्मान भारत के मौजूदा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वर्चुअल इवेंट के जरिए नेशनल टीचर्स अवॉर्ड 2020 में टीचर्स का सम्मान किया. महामहिम ने कहा, “इस साल 47 टीचर्स विजेता बने हैं, जिसमें से 18 महिला शिक्षक हैं.”

राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि कोरोना के चलते इस समय स्कूल और कॉलेज बंद है. इस स्थिति में डिजिटल तकनीक ने शिक्षा में अहम भूमिका निभाई है. जरूरी है कि टीचर्स डिजिटल तनकीक को अपनाकर अपने हुनर को बेहतर करे, जिससे शिक्षा का स्तर बेहतर किया जा सकता है.