खूबसूरत विदेशी लड़की के कारण उड़ी सोनिया-राहुल की नींद

आर.बी.एल.निगम

RBL Nigamअगस्ता डील के कारण कांग्रेस की नींद उड़ी हुई है, एक खूबसूरत विदेशी लड़की के कारण कांग्रेस को ये परेशानी झेलनी पड़ रही है।

अगस्ता मामले में कांग्रेस मुश्किलों में घिरी हुई है।कांग्रेस घोटालों के दलदल में इतना गहरे तक फंस चुकी है कि बचाव के रास्ते दिखाई नहीं दे रहे हैं। बौखलाहट में कांग्रेस केंद्र सरकार पर बदले की कार्रवाई के आरोप और लोकतंत्र बचाओ मार्च निकाल रही है। फिलहाल कांग्रेस के लिए इस घोटाले की काली छाया से निकलने का कोई रास्ता नहीं सूझ रहा है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि कांग्रेस की ये सारी परेशानी एक खूबसूरत लड़की के कारण खड़ी हुई है।

राजनीतिक बयानबाजी के बीच अब इस मामले में एक औऱ खुलासा हुआ है। ऑगस्ता मामले में अब एक खूबसूरत विदेशी लड़की का नाम सामने आ रहा है। इस लड़की खूबसूरती भी चर्चा में है। खास बात ये है कि इसी लड़की ने ऑगस्ता डील कराने के लिए अधिकारियों और नेताओं से बातचीत की जिम्मेदारी निभाई थी। 31 साल की इस लड़की का नाम क्रिस्टीना है। ये डेनमार्क की रहने वाली है।

9516-national-news-2ऑगस्ता डील के वक्त क्रिस्टीना की उम्र करीब 20 साल की थी। वो ऑगस्ता हेलीकॉप्टर की सौदेबाजी के बिचौलिया क्रिश्चियन मिशेल की कंपनी में शेयरहोल्डर थीं। अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक क्रिस्टीना ने 2010 और 2012 के बीच भारत और दुबई के कई चक्कर लगाए थे। अखबार के मुताबिक जब अगस्ता वेस्टलैंड डील पर मोहर लग रही थी तो रिश्वत का पैसा हैशके, और मिशेल के बीच बांटा गया था। फिलहाल सीबीआई इस बात की जांच कर रही है कि क्रिस्टीना की भारत यात्राओं और ऑगस्ता डील के बीच क्या संबंध हैं।

ऑगस्ता मामले में अभी तक की जांच में जो तथ्य सामने आए हैं उनमें क्रिस्टीना एक कड़ी के तौर पर दिख रही है। बताया जा रहा है कि बिचौलिए मिशेल की तरफ से क्रिस्टीना ही भारतीय अधिकारियों से मुलाकात करती थी। ऑगस्ता डील को पक्का करने के लिए क्रिस्टीना ने दुबई और ज्यूरिख के भी कई चक्कर लगाए थे। जांच एजेंसियां अब क्रिस्टीना के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए दस्तावेज खंगाल रही हैं।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने  कहा कि वह खुश हैं कि उन्हें निशाना बनाया जा रहा है। इससे पहले भारतीय जनता पार्टी ने उनके एक सहयोगी कनिष्क सिंह पर अगस्तावेस्टलैंड तथा राष्ट्रमंडल घोटाले में शामिल होने का आरोप लगाया था। गांधी ने कहा,मुझे हमेशा निशाना बनाया जाता है। मैं निशाना बनकर खुश हूं।

9516-national-news-1भाजपा सांसद किरीट सोमैया ने आरोप लगाया है कि कनिष्क सिंह का रिटल एस्टेट कंपनी एमार एमजीएफ लैंड लिमिटेड में शेयर है और इस कंपनी में अगस्तावेस्टलैंड घोटाले के आरोपी ग्वाइडो हश्के के भी पैसे लगे हैं और वह इसके निदेशक हैं। सोमैया ने ट्वीट किया,हश्के एमार एमजीएफ का निदेशक है/था, जो राष्ट्रमंडल घोटाले में शामिल रहा है। एमार एमजीएफ कंपनी की स्थापना कनिष्क सिंह के परिवार द्वारा की गई थी, जो राहुल के सलाहकार/प्रधान सचिव हैं। सोमैया ने ईडी तथा सीबीआई को एक पत्र लिखा है और राष्ट्रमंडल घोटाले तथा वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले में कथित तौर पर शामिल एमार एमजीएफ के कनिष्क सिंह तथा राहुल गांधी के साथ संबंधों की जांच करने की अपील की है।

कांग्रेस ने कहा,कनिष्क पर झूठे आरोप…

इस बीच, कनिष्क सिंह ने सभी आरोपों को निराधार, गलत व राजनीति से प्रेरित करार दिया है। कांग्रेस ने एक बयान में कहा,सोमैया साल 2013 से ही दुर्भावनापूर्ण इरादे से कनिष्क सिंह के खिलाफ झूठे आरोप लगा रहे हैं। कनिष्क सिंह ने सभी आरोपों को पूरी तरह खारिज कर दिया है। बयान के मुताबिक कनिष्क सिंह का इन मामलों से कोई लेना-देना नहीं है। सिंह अगर अगस्ता वेस्टलैंड या हश्के या एमार-एमजीएफ से संबंधित किसी भी मामले में दोषी पाए जाते हैं, तो उनके खिलाफ कडी से कडी कार्रवाई होनी चाहिए। बयान में कहा गया है,कनिष्क सिंह का इन सब से कोई लेना-देना नहीं है और राजीव गुप्ता के परिवार (एमार-एमजीएफ) से उनके संबंध अच्छे नहीं हैं। गुप्ता परिवार से उनका संबंध साल 2005 में तब खराब हो गया, जब राजीव गुप्ता वेद प्रकाश गुप्ता का एक वसीयतनाम लाया था, जिसे कनिष्क सिंह व उनकी मां ने धोखाधडी करार दिया और तब से यह मामला अदालत में लंबित है। कांग्रेस ने आरोपों को भाजपा का झूठा प्रचार तंत्र करार दिया है।

साजिशपूर्ण झूठे प्रचार की अति…

पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक बयान में कहा,भाजपा सरकार व उनके कई नेता हर दिन साजिशपूर्ण झूठ का प्रचार करते हैं और अब इसकी अति हो गई है। भाजपा नेता किरीट सोमैया द्वारा कनिष्क सिंह के खिलाफ आरोप ऊटपटांग और निराधार हैं। हम भाजपा और मोदी सरकार को याद दिलाना चाहते हैं कि मोदी सरकार बस दो साल से ही सत्ता में है। सुरजेवाला ने कहा,अपने मित्रवत मीडिया के खुलासों पर भरोसा करने के बजाए भाजपा सरकार को मामले की जांच करानी चाहिए और अगस्ता वेस्टलैंड में दोषी पाए जाने वाले लोगों को कडा से कडा दंड देना चाहिए।

वहीं, केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने राहुल के इस बयान पर तुरंत पलटवार किया। सिंह ने कहा कि गलती की है तो उनका निशाना बनना स्वाभाविक है। सिंह ने कहा कि राहुल को ईडी के सामने पेश होना चाहिए।

बीजेपी ने राहुल पर लगाया ये आरोप –

बीजेपी के सांसद किरीट सोमैया ने राहुल गांधी पर सीधा निशाना साधते हुए सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय से कहा है कि वे राष्ट्रमंडल खेल घोटाले में कथित रूप से शामिल एक रीयल एस्टेट डिवेलपर के साथ उनके संपर्क जांचें और आरोप लगाया कि कांग्रेस उपाध्यक्ष के एक राजनीतिक सहायक का संबंध अगुस्टा वेस्टलैंड सौदे के बिचौलिए से है।

एजेंसियों को लिखे गए अपने पुराने पत्रों का हवाला देते हुए सोमैया ने कहा कि हेलिकॉप्टर सौदे में कथित बिचौलिया गुइदो हश्के दोनों घोटालों में है और वह वीवीआईपी हेलिकॉप्टर सौदा घोटाले के क्रिश्चन मिशेल से जुड़ा हुआ है। सोमैया ने कहा, मैं आपसे इन संपर्कों को जांचने और जरूरी कदम उठाने का अनुरोध करता हूं।

अगस्ता डील पर  मोदी का आक्रामक रूख !

9516-national-newsनरेंद्र मोदी ने विवादास्पद अगस्तावेस्टलैंड सौदे को लेकर सोनिया गांधी पर परोक्ष रुप से हमला बोलते हुए आज उनके इतालवी मूल का मुद्दा उठाया और संकेत दिया कि दोषी चाहे जितने भी बडे हों उन्हें सजा मिलेगी. मोदी ने इटली के मिलान की एक अदालत के इस फैसले पर अपनी चुप्पी तोडी कि आंग्ल-इतालवी कंपनी द्वारा भारत को वीवीआईपी हेलीकाप्टर की आपूर्ति में ‘भ्रष्टाचार’ हुआ था. मोदी ने सौदे को एक ‘चोरी’ बताया. प्रधानमंत्री ने तमिलनाडु और केरल में अपनी चुनावी रैलियों में प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस को घेरने के लिए अगस्तावेस्टलैंड सौदा और सौर घोटाले का इस्तेमाल किया.

उन्होंने कहा कि उन पर इसलिए हमला किया जा रहा है क्योंकि उन्होंने भ्रष्टाचार पर ‘नकेल कस दी है.’ मोदी की ओर से यह हमला तब किया गया जब कुछ ही घंटे पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नई दिल्ली में मोदी सरकार पर लोकतंत्र की ‘हत्या’ करने और अदालत के फैसले के बाद विपक्ष पर ‘आधारहीन आरोप’ लगाने का अभियान शुरू करने का आरोप लगाया था. कांग्रेस या पार्टी के किसी नेता का नाम लिए बगैर मोदी ने कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा जिसके नेताओं ने सोनिया का नाम घसीटने के लिए उनकी सरकार पर जवाबी हमला किया है.

मोदी ने सवाल किया, ‘यदि इटली की अदालत ने कहा है कि भारत में पिछली सरकार के लोगों ने पैसे खाये हैं तो आप हमें क्यों परेशान कर रहे हो? क्या आपका कोई रिश्तेदार इटली में रहता है. क्या मेरा कोई रिश्तेदार इटली में रहता है. मैंने इटली देखा नहीं है. मैं इटली नहीं गया हूं. न ही मैंने इटली में किसी से मुलाकात की है. यदि इटली के लोगों ने उन पर आरोप लगाया है तो हम क्या करें?’ उन्होंने तमिलनाडु के होसुर और चेन्नई में आयोजित चुनावी रैलियों में कहा, ‘हेलीकॉप्टर चोरी में जो लोग शामिल हैं उनको दंडित किया जाना चाहिए या नहीं? वे जितने भी बडे हों, उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए या नहीं? मैं तमिलनाडु के लोगों से जानना चाहता हूं.’

मोदी ने कांग्रेस पर भ्रष्टाचार को लेकर निशाना साधते हुए 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन और कोयला नीलामी में कथित अनियमितताओं का उल्लेख किया. मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिए इतने कदम उठाये हैं कि ‘भ्रष्टों को घबराहट हो रही है.’ उन्होंने कहा, ‘उन लोगों के लिए अस्तित्व बनाये रखने में मुश्किल हो रही है. इसलिए जब भी मोदी के खिलाफ हमले होते हैं, इसका मतलब है कि मोदी ने नट-बोल्ट कस दिये हैं’ केरल में मोदी ने कांग्रेस नीत यूडीएफ सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि लगता है कि राज्य में कोई ‘सरकार नहीं है.’

मनोहर पर्रिकर का ये रूप कभी नहीं देखा !

हेलीकाप्टर घोटाले से पूरे देश की राजनीती गरम हैं , कांग्रेस को हर किसी ने टारगेट बनाया , सब लोग बन्दूक की नोक कांग्रेस की और कर रखे हैं. जब भी किसी को कोई मौका मिलता हैं कर देता हैं फायर .ऐसा की एक फायर अब पारिक्कर जी ने कर दिया .आम तौर पर चुप मंत्री ने राज्य सभा में अपने उग्र पक्ष दिखाया जब उन्होंने कांग्रेस trolled और हँसी में बाहर फट पूरे घर बनाया है।


क्लिक करें और वीडियो देखें
CLICK HERE