सोनिया-कांग्रेस के आपराधिक षडयंत्र का भंडाफोड़ : जैन

विनोद बंसल

vinod-bansalनई दिल्ली| विश्व हिन्दू परिषद ने आज कहा है कि भारतीय ख़ुफ़िया एजेंसियों द्वारा इस खुलासे ने कि समझौता ब्लास्ट मामले में पुरोहित व अन्यो के खिलाफ कोई साक्ष्य नहीं हैं, कांग्रेस के देशद्रोही चेहरे को एक बार फिर  से उजागर कर दिया है| विहिप के अंतर्राष्ट्रीय संयुक्त महा मंत्री डॉ सुरेन्द्र जैन ने यह भी कहा कि इससे पूर्व भी इशरत के मामले में सोनिया सरकार के गृह मंत्री के झूठे शपथ पत्रों से यह सिद्ध हो चुका है कि वे आतंकियों को बचाने के लिए हिन्दू नेताओ और संतो पर झूठेमामले दर्ज करते थे|

पहले सिमी जैसे देशद्रोही संगठनो को समर्थन और उसके बाद बिना सबूतों के हिन्दू आतंकवाद शब्द को गढ़ना, यह बताता है  कि सोनिया गाँधी  सत्ता प्राप्त करने के लिए किसी भी सीमा तक जाकर देश को नुकसान पंहुचा सकती है| सोनिया ने न केवल आतंकियों के हौंसले बढ़ाये हैं अपितु अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत का मजाक बनवाया है| इन्होने झूठे मामलों में हिन्दुओ को फंसाकर अल कायदा के सहायक बनकर असली आतंकियों को छोड़ने का अपराध भी किया है| खिसियानी बिल्ली की तरह अब कांग्रेस को कुतर्कों का सहारा नहीं लेना चाहिए| इन अपराधों के लिये सोनिया -राहुल को देश से माफ़ी मांगनी चाहिए | देश की सुरक्षा से जुड़े इन अति संवेदनशील मामलों में सोनिया की यह कार्यवाही एक अपराधिक षड़यंत्र है| यह सिद्ध हो गया है कि कांग्रेस मुक्त भ|रत ही सुरक्षित और सशक्त भारत बन सकता है|