माचू पिचू को सिर्फ़ एक पर्यटक के लिए खोला है

  • जापान के जेसी कातायामा इस साल मार्च में ही माचू पिचू घूमने आए थे, लेकिन कोरोना वायरस के कारण माचू पिचू को बंद कर दिया गया था.
  • कातायामा ने भी क़रीब सात महीने तक माचू पिचू जाने का इंतज़ार किया.
  • माचू पिचू पेरू में इंका सभ्यता का प्रसिद्ध अवशेष स्थल है. यहाँ के खंडहर इंका सभ्यता की निशानी हैं. दूर-दूर से लोग इस सभ्यता के अवशेषों को देखने आते हैं.
  • पेरू के सांस्कृतिक मंत्री एलेजांड्रो नेयरा ने बताया कि कातायामा को विशेष अनुरोध पर माचू पिचू जाने की अनुमति दी गई है.
  • पेरू का सबसे चर्चित पर्यटक स्थल माचू पिचू अगले महीने से खुलने वाला है. लेकिन यहाँ आने वालों की संख्या सीमित की गई है.
  • फ़िलहाल माचू पिचू खोले जाने की कोई तारीख़ नहीं तय हुई है.

योजना

  • जापानी पर्यटक जेसी कातायामा ने पेरू में कुछ दिन बिताने की योजना बनाई थी. लेकिन मार्च के मध्य में वे कोरोना वायरस के कारण ऑगस कैलिएंट्स शहर में फँस गए. ये शहर माचू पिचू के नज़दीक है.
  • पेरू के सांस्कृतिक मंत्री नेयरा ने एक वर्चुअल प्रेस कॉन्फ़्रेंस में बताया, “कातायामा माचू पिचू घूमने का सपना लेकर पेरू आए थे.”
  • उन्होंने बताया कि कातायामा को माचू पिचू जाने की अनुमति इसलिए दी गई ताकि वे जापान लौटने से पहले अपना सपना पूरा कर सकें.
  • कातायामा ने भी माचू पिचू जाकर एक वीडियो रिकॉर्ड किया, जिसमें वे यहाँ आने का जश्न मनाते दिख रहे हैं. कातायामा कहते हैं- ये यात्रा सच में गज़ब की है. थैंक यू.
  • जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के आँकड़ों के मुताबिक़ पेरू में अभी तक कोरोना वायरस संक्रमण के 849,000 मामले सामने आए हैं और क़रीब 33 हज़ार लोगों की जान गई है.