कार्यक्रमों की रूप रेखा तय की गई राज्य स्थापना दिवस समारोह के अवसर पर

 मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की अध्यक्षता में मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास में आयोजित बैठक में राज्य स्थापना दिवस समारोह के अवसर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों की रूप रेखा तय की गई, मुख्यमंत्री ने स्थापना दिवस के कार्यक्रमों को राज्य मुख्यालय के साथ ही सभी जिला मुख्यालयों में भी सादगी के साथ गरिमामय ढंग से आयोजित किये जाने पर बल दिया।

  • बैठक में कैबिनेट मंत्री श्री अरविंद पाण्डे, राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ. धन सिंह रावत, सचिव वित्त श्री अमित नेगी, सचिव मुख्यमंत्री श्रीमती राधिका झा एवं अपर सचिव मुख्यमंत्री तथा महानिदेशक सूचना डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट उपस्थित थे।
  • मुख्यमंत्री द्वारा 21 वें राज्य स्थापना दिवस समारोह के संबंध में दिये गये दिशा निर्देशों के अनुसार 21 वें राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर दिनांक 8.11.2020 से 11.11.2020 तक देहरादून एवं अन्य जनपदों के मुख्य राजकीय भवनों को प्रकाशमान किया जायेगा।
  • गढ़वाल मण्डल विकास निगम एवं कुमाऊ मण्डल विकास निगम द्वारा भी अपने कार्यालय एवं पर्यटक आवास गृहों को प्रकाशित किया जायेगा।  
  • 08 नवम्बर को मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र द्वारा माउण्टेन बाईक रैली का शुभारम्भ किया जायेगा।
  • राज्य के समस्त महाविद्यालयों में फ्री वाई-फाई कनेक्टिविटी कार्यक्रम का शुभारम्भ डोईवाला से मुख्यमंत्री द्वारा किया जायेगा।
  • डोबरा-चांटी पुल का लोकार्पण भी मुख्यमंत्री द्वारा किया जायेगा। इस अवसर पर उत्तराखण्ड राज्य के गठन में शहीद हुए शहीदों को दिनांक 09 नवम्बर, 2020 को प्रातः 9ः30 बजे शहीद स्मारक, देहरादून में श्रद्धांजलि कार्यक्रम जिला प्रशासन की देखरेख में सम्पन्न कराया जायेगा।
  • 21 वें राज्य स्थापना दिवस समारोह के विशेष अवसर पर दिनांक 09 नवम्बर, 2020 को प्रातः 9ः55 से 12ः00 बजे तक पुलिस लाईन, देहरादून में ‘‘राज्य स्थापना परेड’’ एवं विकास पुस्तिका का विमोचन किया जायेगा।
  • उत्तराखण्ड पुलिस के जवानों द्वारा प्रतिभाग किया जायेगा एवं पुलिस बल द्वारा साहसिक करतब का आयोजन किया जायेगा।
  • कोविड-19 महामारी को दृष्टिगत रखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग तथा अन्य बचाव सम्बन्धी दिशा-निर्देश का कड़ाई से अनुपालन किया जायेगा।
  • इसके अतिरिक्त समारोह में चुनिंदा महानुभावों/अधिकारियों/व्यक्तियों को ही आमंत्रित किया जायेगा ताकि कोविड-19 के सम्बन्ध में निर्गत दिशा-निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित हो सके।
  • इसी प्रकार राज्य स्थापना की 20वीं वर्षगांठ/21वें राज्य स्थापना दिवस पर समस्त जिला मुख्यालयों में कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे एवं प्रभारी मंत्रीगणों को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया जायेगा।
  • इन्हीं कार्यक्रमों के दौरान सम्बन्धित जिले की योजनाओं का शिलान्यास/लोकार्पण की कार्यवाही सम्पन्न करायी जाये।
  • जिन प्रभारी मंत्रियों के पास एक से अधिक जनपदों का प्रभार है उन जनपदों में मुख्यमंत्री जी द्वारा नामित सांसद को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया जायेगा।
  • संबंधित जिले के समस्त विधायकों को उपरोक्त कार्यक्रम में अनिवार्य रूप से आमंत्रित किया जायेगा।
  • विभागवार शिलान्यास/लोकार्पण कार्यक्रमों की रूपरेखा अपर मुख्य सचिव, नियोजन एवं मुख्यमंत्री घोषणाओं से सम्बन्धित कार्य सचिव, मुख्यमंत्री (घोषणा) से समन्वय स्थापित करते हुए सम्पन्न कराया जायेगा।
  • मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र 9 नवम्बर को अपराह्न में गैरसैंण (भराड़ीसैंण) के लिये प्रस्थान करेंगे।
  • गैरसैंण (भराड़ीसैंण) में आईटीबीपी एवं पुलिस बल की परेड का आयोजन किया जायेगा। तत्पश्चात सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जायेगा।
  • 10 नवम्बर को मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र गैरसैंण (भराड़ीसैंण) में स्थानीय भ्रमण के अन्तर्गत वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली जी की दूधातोली स्थित समाधि में पुष्पांजलि अर्पित करेंगे।
  • तत्पश्चात गैरसैंण (भराड़ीसैंण) में विभिन्न विभागों के लोकार्पण/शिलान्यास मुख्यमंत्री द्वारा किये जायेंगे।

राज्य स्थापना समारोह के अवसर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों हेतु नोडल विभाग, सूचना एवं लोक सम्पर्क विभाग, उत्तराखण्ड होगा। इस हेतु डॉ0 मेहरबान सिंह बिष्ट, महानिदेशक सूचना को नामित किया गया है।