‘हाइशेन’ नाम का चक्रवात दक्षिण जापान में भारी तबाही मचा सकता है,इसलिए 22,000 सैनिकों की तैनाती की गई

चेतावनी/ दक्षिण जापान: भारी बारिश और तेज गति वाले हवाएं के चलने से दक्षिण जापान में ओकिनावा द्वीपों की ओर एक शक्तिशाली चक्रवात बढ़ रहा है

मौसम विभाग के अनुसार चक्रवात  ‘हाइशेन’ जापान में भारी तबाही मचा सकता है, इसलिए एहतियातन हालातों से निपटने के लिए 22,000 सैनिकों की तैनाती की गई  है।

वहीं इसे लेकर  लोगों से अपील की गई है कि वे घरों के भीतर रहें और खाने-पीने की सामग्री एकत्रित कर लें। मौसम विज्ञान एजेंसी ने कहा है कि हैशन तूफान के दौरान चलने वाली आंधी के कारण समुद्री लहरें सुनामी जितनी ऊंची उठ सकती हैं।

यह तूफान रविवार और सोमवार के बीच जापानी द्वीप पर टकरा सकता है।


फिलहाल इस द्वीप पर तूफान के कारण बारिश और समुद्री ज्वार के साथ तेज हवाएं चल रही हैं। हैशेन के केंद्र में वायुमंडलीय दबाव 920 हेक्टोपस्कल है, जबकि इसकी पवन ऊर्जा 180 किलोमीटर प्रति घंटा है।
 
हैशन यानी समुद्र का भगवान
हैशन चीनी भाषा का एक शब्द है जिसका अर्थ होता है समुद्र का भगवान। यानी इसकी ताकत काफी अधिक आंकी गई है। बताया जा रहा है कि तूफान के चलते जापानी द्वीप पर 250 किलोमीटर प्रति घंटे तक तेज हवाएं चल सकती हैं।

इस बीच, दक्षिणी-पश्चिमी जापान में करीब 100 उड़ानें शनिवार को तेज आंधी के चलते रद्द कर दी गईं।