परीक्षा को देखते हुए जरूर सिलेबस में कटौती हो गई है

कोरोना महामारी के कारण लंबे समय तक शैक्षिक संस्थान बंद रहने की वजह से राज्य सरकार ने स्कूली सिलेबस में तीस फीसदी की कटौती कर दी। शिक्षा सचिव आर. मीनाक्षी सुंदरम ने शुक्रवार को इसके आदेश किए।

  • इस आदेश के मुताबिक, उत्तराखंड में एनसीईआरटी के स्तर से सिलेबस में की गई 30 फीसदी कटौती मान्य होगी।
  • इसी आधार पर वर्ष 2020-21 शैक्षिक सत्र में गृह और बोर्ड परीक्षाएं करवाई जाएंगी। यह फैसला शिक्षा विभाग की ओर से संचालित सरकारी, अशासकीय सहायता प्राप्त और मान्यता प्राप्त स्कूलों पर लागू होगा।
  • शिक्षा सचिव ने बताया कि पहली से आठवीं तक एनसीईआरटी से तय सिलेबस लागू किया जाएगा। नौवीं से 12वीं तक का सिलेबस विद्यालयी शिक्षा परिषद की ओर से तय होगा।
  • उत्तराखंड में पहली से 12वीं तक एनसीईआरटी किताबें लागू हैं। लेकिन राज्यस्तर से भी कुछ किताब पढ़ाई जातीं हैं। इन किताबों में भी तीस फीसदी की कटौती होनी है।
  • सचिव ने कहा, परीक्षा को देखते हुए जरूर सिलेबस में कटौती हो गई है, पर छात्रों को अधिक जानकारी देने के लिए काटे गए सिलेबस के अहम हिस्से भी पढ़ाने का प्रयास करेंगे।