तिल का तेल निकाला घंटाकर्ण धाम घंडियाल डांडा मंदिर में अखंड ज्योति के लिए

चंबा: घंटाकर्ण धाम घंडियाल डांडा मंदिर में अखंड ज्योति के लिए गजा के मंदिर में तिल का तेल निकाला गया।

  • इसका प्रयोग मंदिर में आगामी दिनों में होने वाले धार्मिक आयोजनों में किया जाएगा।
  • प्रसिद्ध घंटाकर्ण धाम घंडियाल डांडा मंदिर के लिए अखंड ज्योति जलाने को भक्तों की ओर से दान किए गए तिल से गजा घंडियाल मंदिर में विधिवत पूजा-अर्चना के बाद सुहागिनों ने तिल को कूटकर व पिरोकर तेल निकालने का काम किया।
  • यह तेल आगामी 12 से 14 नवंबर तक होने वाले तीन दिवसीय यज्ञ व मंदिर गर्भगृह मे पूजा के लिए उपयोग किया जाएगा।
  • साथ ही इससे मंदिर में जलने वाली अखंड ज्योति भी प्रज्वलित होगी। इसके लिए सौ किलो से अधिक तेल निकालने का लक्ष्य रखा गया है।
  • मंदिर समिति के अध्यक्ष विजय प्रकाश बिजल्वाण ने बताया कि यह परंपरा हर साल निभाई जाएगी।

इस साल छोटी दीपावली को व उससे दो दिन पहले से पूजा का विशाल कार्यक्रम रखा गया है। इस मौके पर मान सिंह चौहान, सौंराल्या देवता के पश्वा ताजबीर खाती, कमल सिंह सजवाण, भरपूर सिंह, बैशाख सिंह चौहान, दिनेश प्रसाद उनियाल सहित अनेक भक्त उपस्थित थे।