ढोल सागर की प्रस्तुति ने किया सभी को मंत्रमुग्ध

चमोली। रंगारंग सांस्कृतिक एवं खेलकूद कार्यक्रमों के साथ जोशीमठ में शरदोत्सव मेला आज से शुरू हो गया है। मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित मा0 पर्यटन, सिंचाई एवं सांस्कृति मंत्री श्री सतपाल महराज ने जोशीमठ में चार दिवसीय शरदोत्सव मेले का उद्घाटन किया। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रूप में क्षेत्रीय विधायक महेन्द्र प्रसाद भ्टट भी मौजूद थे। ज्योति विद्यालय जोशीमठ के सुन्दर बैण्ड की धुन पर नगर क्षेत्र के 14 विद्यालयों के छात्र-छात्राओं ने मार्चपास कर मुख्य अतिथि को सलामी दी। वही महिला मंगल दल ने भोटिया संस्कृतिक की विरासत पौणा नृत्य प्रस्तुति दी गयी। ढोल वादकों ने परमपरागत ढोल सागर की प्रस्तुति से सभी को मंत्रमुग्ध किया।

शरदोत्सव कार्यक्रम में जनता को संबोधित करते हुए मा0 पर्यटन, सिंचाई एवं सांस्कृति मंत्री ने कहा कि राज्य को विंटर डेस्टिनेशन बनाने का प्रयास किया जा रहा है ताकि शीतकाल में भी पर्यटकों का आना जाना लगा रहे। उन्होंने कहा कि औली एवं गोरसों को विकसित करने का पूरा प्रयास किया जा रहा है तथा औली में इस वर्ष शीतकालीन स्कीइंग गेम्स के आयोजन के लिए सरकार ने 12 करोड़ धनराशि भी जारी कर दी है। कहा कि पर्यटक और तीर्थाटन जाने वाले मार्गो पर निवासरत स्थानीय लोगों को बाहर से आने वाले तीर्थयात्रियों और पर्यटकों को स्थानीय उत्पादों से निर्मित भोजन बनाने की ट्रेनिंग दी जायेगी। वही होम-स्टे योजना को और अधिक कारगर बनाने का प्रयास किया जा रहा है ताकि तीर्थाटन एवं पयर्टन को बढाया जा सके।

उन्होंने बताया कि शीघ्र ही सरकार प0 दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर समेकित ग्रामीण पर्यटन स्वरोजगार योजना शुरू करने जा रही है। कहा कि पंचकेदार व पंचबदरी के दर्शनों के लिए हैलीपैड स्थलों को चिन्हित किया जा रहा है तथा गौचर एवं पिथौरागढ़ हवाई पट्टी को विकसित किया जा रहा है। नगर वासियों द्वारा उठायी गयी आॅल वेदर रोड की समस्या पर उन्होंने कहा कि जन भावनाओं के अनरूप ही सड़क निर्माण का कार्य किया जायेगा। कहा कि चारधाम टैªकिंग मार्ग को विकसित कर धार्मिक पर्यटन को बढावा देने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य के विकास के लिए सभी की सहभागिता आवश्यक है। इस अवसर पर उन्होंने ढोल सागर एवं पाण्डो नृत्य की शानदार प्रस्तुति पर उन्हें अपनी सांस्कृतिक धरोहर बताते हुए उन्हें सम्मानित भी किया। इसके साथ ही विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ठ कार्य करने वाले कई अन्य लोगों को भी सम्मानित किया।

विशिष्ट अतिथि एवं क्षेत्रीय विधायक श्री भट्ट ने कहा कि मेले को भव्य स्वरूप देने के लिए सभी की सहभागिता आवश्यक है। उन्होंने कहा कि मेले एक-दूसरे को जोड़ने तथा अपनी संस्कृति को संजोते है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में दस वर्ष से अधिक समय से लंम्बित कई सड़कों पर कार्य शुरू कराया गया है। उन्होंने लोगों को विश्वास दिलाया कि वे उनकी आशाओं पर खरा उतरने का पूरा प्रयास करेंगे। इस अवसर पर उन्होंने मेले के आयेजन के लिए अपनी विधायक निधि से 4 लाख, जोशीमठ में व्यापार संघ के भवन निर्माण हेतु 8 लाख एवं अम्बेडकर भवन के लिए 5 लाख रुपये की धनराशि देने की घोषणा भी की।

मेला अध्यक्ष/नगर पालिका अध्यक्षा रोहिणी रावत ने मुख्य अतिथि एवं विशिष्टि अतिथि सहित सभी जनप्रतिनिधियों व स्थानीय जनता का हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन किया। उन्होंने कहा कि लाखों पर्यटक शीतकाल में भी हमारे पहाड़ी क्षेत्रों में आना चाहते है पर सुविधाओं के अभाव में ऐसा सम्भव नही हो पा रहा है। उन्होंने पर्यटन मंत्री से जोशीमठ में पर्यटकों की सुविधा के लिए हवाई सेवा शुरू करने की मांग की। स्थानीय लोगों की जनभावनाओं एवं व्यापार संघ को ध्यान में रखते हुए आॅल वेदर रोड का निर्माण हेलंग वाईपास से न कर जोशीमठ से कराने की बात कही। उन्होंने जोशीमठ में तटबन्ध के कार्य को पूरा कराने तथा शरदोत्सव मेले को भव्य स्वरूप देने के लिए आर्थिक सहायता देने की मांग भी पर्यटन मंत्री से की।

इस अवसर भाजपा जिला अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्षा विजया रावत, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि प्रसाद सती, माधुरी सती, सभासद गीता परमार सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं भाजपा कार्यकर्ता एवं मुख्य विकास अधिकारी विनोद गोस्वामी, मेलाधिकारी/एसडीएम योगेन्द्र सिंह, मेला सचिव/ईओ नगर पालिका एसपी नौटियाल व भारी संख्या में क्षेत्रीय जनता मौजूद थी।

Leave a Reply