धनतेरस से दिवाली के पंचदिवसीय त्‍योहारी पर्व की शुरुआत मानी जाती है

Dhanteras 2020 धनतेरस को धन्‍वंतरि जंयती भी मनाई जाती है।

  • इस दिन सभी लोग दिवाली पूजा के लिए पूजन सामग्री, गणेश-लक्ष्मी जी की मूर्तियों के साथ ही सोना, चांदी या बर्तन आदि खरीदकर घर में लाते हैं।
  • दीपावली के 2 दिन पूर्व धन त्रयोदशी यानि धनतेरस का पर्व मनाया जाता है। धनतेरस से दिवाली के पंचदिवसीय त्‍योहारी पर्व की शुरुआत मानी जाती है।
  • माना जाता है कि इस दिन घर पर जो भी चीजें लाई जाती हैं, साल भर घर में उन चीजों की कमी नहीं होती। साथ ही लक्ष्मी जी घर में वास करती हैं।
  • धनतेरस पर रात में लोग घरों के दरवाजे पर दिया जलाते हैं और मां लक्ष्मी के चरण चिह्न भी सजाते हैं।
  • कुछ घरों में धनतेरस पर बड़ा सा दिया जलाया जाता है, जिसमें साल भर के हर दिन के लिए कुल 365 बातियां होती हैं।