एआईसीटीई की मान्यता के बगैर संचालित हो रहे 34 पाॅलीटेक्निक

देहरादून। उत्तराखंड के 34 सरकारी पॉलीटेक्निक अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) की मान्यता के बगैर चल रहे हैं।

राज्य में 78 राजकीय पॉलीटेक्निक हैं, जिनमें से 70 संचालित हो रहे हैं। इन 70 पॉलीटेक्निकों में से 36 के पास ही एआईसीटीई की मान्यता है, जबकि 34 बगैर मान्यता संचालित किए जा रहे हैं। इनमें से अधिकतर सत्र 2014-15 और 2015-16 में शुरू किए गए तो कुछ 2013-14 से चल रहे हैं। एआईसीटीई की मान्यता के बिना पॉलीटेक्निक का डिप्लोमा वैध नहीं माना जाता है।

नियमानुसार पहले एआईसीटीई की मान्यता ली जानी चाहिए और उसके बाद कक्षाएं चलाई जानी चाहिए, लेकिन तकनीकी शिक्षा विभाग ने 34 पॉलीटेक्निक बिना मान्यता लिए ही चला दिए। एआईसीटीई की ओर से मान्यता देते समय पांच एकड़ जमीन की मांग की जाती है। अधिकतर पॉलीटेक्निकों में जमीन का ही पेच फंसा था। ऐसे में बिना मान्यता के चल रहे पॉलीटेक्निकों में पढ़ने वाले छात्रों का भविष्य खतरे पड़ सकता है।