गम्भीर है पानी की समस्या: डीएम

DSC_0057-copyदेहरादून। डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर की 125 वीं जंयती के अवसर पर 14 अपै्रल 2016 से 24 अपै्रल 2016 तक संचालित होने वाले कार्यक्रमों के तहत ग्राम उदय से भारत उदय अभियान के अन्तर्गत आज ग्राम पंचायत मियंवाला में जिलाधिकारी रविनाथ रमन की अध्यक्षता में किसान गोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें कृषि विभाग द्वारा ग्रामीण कृषकों को कृषि यंत्र एवं चैक तथा मक्का का बीज वितरित किया गया तथा गोष्ठी में ग्रामीणों द्वारा उठाई गई समस्याओं के समाधान के लिए जिलाधिकारी द्वारा ग्राम वासियों को आश्वाश्न दिया गया।

किसान गोष्ठी के अवसर पर जिलाधिकारी द्वारा कृषि विभाग द्वारा संचालित आत्मा परियोजना के अन्तर्गत दिये जाने वाले  किसान भूषण पुरूस्कार का 25 हजार का चैक सब्जी उत्पादन हेतु ओम प्रकाश लखेडा तथा बीज उत्पापदन हेतु 10 हजार रू. का चैक नित्यानन्द एवं मत्सस्य पालन हेतु 10 हजार का चैक दीपक उपध्याय को दिया गया तथा 7 कृषकों को उतम किस्म का मक्का का बीज उपलब्ध कराया गया। इसी प्रकार प्रगतिशील कृषक सहायता समूह नकरौदा को 10 की लागत से रोटोवैटर मशीन व अन्य सामान उपलब्ध उपलब्ध कराया गया जिसमें कृषि विभाग द्वारा 4 लाख की सब्सीडी उपलब्ध कराई गई।

DSC_0045-copyइस अवसर पर ग्रामवासियों द्वारा जिलाधिकारी को क्षेत्र में विद्युत विभाग द्वारा ट्यवैल की मोटर चलाने पर बिल के साथ 100 रू. अतिरिक्त टैक्स लगाने की शिकायत तथा क्षेत्र में पानी की समस्या एवं  बन्दरों एवं हाथी एवं शादी के समय रात्री में की जाने वाली आतिशबाजी के कारण वतर्मान समय में गेहू की सफल को आग लगने की सम्भावना से अवगत कराया गया तथा ऐसे लोगों पर प्रतिबन्ध लगाने एवं आवश्यक कार्यवाही की मांग की गई। इस पर जिलाधिकारी रविनाथ रमन द्वारा ग्राम वासियों को भरोसा दिलाया गया कि विद्युत विभाग द्वारा जो ट्यवैल पर अतिरिक्त टैक्स लगाया जा रहा है इस सम्बन्ध में वह विद्युत विभाग से जानकारी प्राप्त की जायेगी तथा उसीके अनुसार आवश्यक कार्यवाही की जायेगी। पानी की समस्या के लिए जिलाधिकारी ने कहा कि पानी की समस्या बडी गम्भीर समस्या है तथा इस बार तो मानसून अच्छा बताया गया है फिर भी जून में 19 से 25 के बीज न आने से जुलाई के प्रथम सप्ताह तक आने का अनुमान मौसम विभाग द्वारा लगाया गया है जो पानी की समस्या को और बढ़ायेगा।

जिलाधिकारी ने पानी की समस्या से निपटने के लिए सभी ग्राम वासियों से रैनवाटर हारवैटिग लगाने की अपेक्षा की तथा गांव में छोटे-छोटे तालाब एवं गददेरों में चैक डैम के माध्यम से वर्षा के जल को संरक्षण की अपेक्षा की तथा इस कार्य को मनरेगा योजना के अन्तर्गत शामिल करने की अपेक्षा की। क्षेत्र में बन्दरों की समस्या के लिए उन्होने कहा कि बन्दरों के लिए हरिद्वारा में बन्दर बाडा बनाया गया है उन्हे पकड कर वंहा भेजा जायेगा तथा बन्दरों की जनसंख्या पर रो लगाने के लिए उनकी नसबन्दी करने हेतु वन विभाग द्वारा कार्य योजना तैयार की जा रही है। जगली हाथियों एवं सुवरों से फसल की रक्षा के लिए उन्होने खेतो के किनारे रामबासं का प्रयोग किया जा सकता है जिसके लिए उन्होने कहा कि इस कार्य को मनरेगा के तहत किया जा सकता है। शादियों  में की जाने वाली आतिश बाजी के लिए जिलाधिकारी ने कहा कि जो वैडिगं प्वंाईटं शहर में संचालित हो रहे है यदि उनके द्वारा यदि अनावश्यक आतिश बाजी की जाती है तो इसके लिए पुलिस को आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिये जायेगें। यदि गांव में होता है तो इसके लिए सभी ग्राम वासियों को ग्राम सभा की बैठक कर ऐसा करने वाले पर दण्ड लगाने का प्राविधान रखें।

जिलाधिकारी ने कहा कि ग्राम उदय से भारत उदय योजना के अन्तर्गत सभी ग्राम पंचायतो में खुली बैठक आयोजित की जानी है इसमें सभी ग्रामवासी अपने ग्राम की जो भी योजनाये है उन्हे शामिल करें। उन्होने कहा कि 2 लाख तक का कार्य ग्राम पंचायत खुद कर सकती है इससे ज्यादा के जो भी कार्य है उनके प्रस्ताव उन्हे उपलब्ध करादे जिन्हे वह डी.पीसी में रखते हुए उन प्रस्ताव पर चर्चा कर पारित कराया जायेगा। जिलाधिकारी ने यह भी अवगत कराया कि इन्दिरा आवास के स्थान पर अब प्रधानमंत्री आवास योजना हो गई है जिसमें जो पात्र व्यक्ति आवासवीहिन है ऐसे व्यक्तियों को ग्राम सभा की खुली बैठक में चयन अवश्य करे ताकि कोई भी पात्र व्यक्ति आवास से वंचित न रहे। उन्होने कहा कि इस योजना में धनराशि भी बढ गई है जिसमें शहरी क्षेत्र के लिए 1 लाख 35 हजार तथा ग्रामीण क्षेत्र हेतु 1 लाख 55 हजार रू. की धनराशि उपलब्ध कराई जायेगी। उन्होने कहा कि इस योजना के तहत जो भी आवासवीहिन है उन्हे 2019 तक हर हाल में आवास उपलब्ध कराये जायेगें। उन्होने यह भी कहा कि जिन लोगों के खाद्यान योजना के तहत राशन कार्ड नही बनाये गये है ऐसे लोगों का भी चिन्हिकरण करें, ताकि राशन कार्ड से वंचित व्यक्तियों के राशन कार्ड बनाया जा सके।

जिलाधिकारी ने कहा कि ग्राम उदय से भारत उदय कार्यक्रम के तहत दिनांक 24 अप्रैल 2016 को राष्ट्रीय पंचायत दिवस के रूप में मनाया जायेगा। इस अवसर पर भारत के प्रधान मंत्री मा. नरेन्द्र मोदी द्वारा जमशेदपुर में आयोजित पंचायती राज प्रनिनिधि सम्मेलन को सम्बोधित करेगें। उन्होने कहा कि हम सौभाग्यशाली है कि पूरे भारत वर्ष में से चुगी गई 20 ग्राम पंचायतों में उतराखण्ड प्रदेश की जनपद देहरादून विकासखण्ड चकराता की ग्राम पंचायत निनुस को ग्राम सभा गौरव पुरूस्कार हेतु चयनित किया गया है। यह पुरूस्कार प्रधान ग्राम सभा निनुस श्रीमती रीता देवी प्राप्त करेगी। उन्होने कहा कि इस कार्यक्रम में उत्तराखण्ड से 45 जनप्रतिनिधि प्रतिभाग कर रहे है तथा जनपद देहरादून से 7 लोग प्रतिभाग करेंगें, जिसमें उपाध्यक्ष जिला पंचायत डबल सिंह, सदस्या जिला पंचायत मिंयावाला श्रीमती हेमा पुरोहित, ब्लाक प्रमुख विकासनगर श्रीमती तारादेवी, ग्राम प्रधान निनुस श्रीमती रीता देवी, सदस्य ग्र्राम पंचायत निनुस बच्चन सिंह राणा, प्रधान ग्राम पंचायत सैंज चण्डी प्रसाद, तथा प्रधान ग्राम पंचायत अटाल प्रभुलाल शर्मा द्वारा प्रतिभाग किया जायेगा। इस कार्यक्रम में प्रतिभाग करने  वाले प्रतिनिधियों को ले जाने हेतु जिला पंचायत राज अधिकाराी मौ. मुस्तफाखान को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

इस अवसर पर प्रधान ग्राम सभा मिंयावाला पूजा नेगी, सदस्य जिला पंचायत पुश्पा बडथ्वाल, ग्र्राम प्रधान बालावाला शबनम थापा, मुख्य कृषि अधिकारी एस. ज्योति कुमार, जिला उद्यान अधिकारी संजय श्रीवास्त सहित सम्बन्धित अधिकारी एवं ग्रामवासी उपस्थित थे।