निशुल्क फोटोमैट्रिक पंजीकरण की व्यवस्था

kedarnath 350देहरादून। चार धाम यात्रा में आने वाले तीर्थ यात्रियों एवं पर्यटकों की सुरक्षा एवं यात्रा को सुव्यवस्थित रूप से सम्पन्न कराये जाने के उद्देश्य से गत वर्षो की भांति इस वर्ष भी उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद् द्वारा मै0 त्रिलोक सिक्योरिटी सिस्टम के सहयोग से निशुल्क फोटोमैट्रिक पंजीकरण की व्यवस्था की गयी है।

यह जानकारी देते हुए सचिव पर्यटन शैलेश बगोली ने बताया कि मै0 त्रिलोक सिक्योरिटी सिस्टम द्वारा तीर्थ यात्रियों की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए गतवर्ष 2015 मे प्रदेश के कुल 11 स्थानों रेलवे स्टेशन हरिद्वार, रोडवेज बस स्टैन्ड ऋषिकेश, हेमकुण्ड गुरूद्वारा ऋषिकेश, जानकीचट्टी, गंगोत्री, गुप्तकाशी, फाटा, सोनप्रयाग, केदारनाथ, पाण्डुकेश्वर एवं गोविन्दघाट में पंजीकरण केन्द्र स्थापित किये गये थे। इस वर्ष इन पंजीकरण केन्द्रों की संख्या में वृद्धि करते हुए 3 नये स्थानों पंडित दीनदयाल उपाध्याय पार्किंग हरिद्वार एवं उत्तरकाशी के हीना तथा दोबाटा में भी पंजीकरण केन्द्र खोले जाने की कार्यवाही गतिमान है। पंडित दीनदयाल उपाध्याय पार्किंग हरिद्वार में पंजीकरण केन्द्र स्थापित कर दिया गया है जबकि हीना एवं दोबाटा में में इन्टरनेट उपलब्धता व अन्य आवश्यक व्यवस्थायें की जा रही हैं ताकि यात्रा आरम्भ होने से पूर्व इन 2 केन्द्रों पर भी फोटो मैट्रिक पंजीकरण कार्य प्रारम्भ किया जा सके।

गत वर्ष 2015 में कुल 11 पंजीकरण केन्द्रों में 35 काउन्टर्स लगाकर पंजीकरण कार्य किया गया था। इस वर्ष चार धाम यात्रियों की सम्भावित वृद्धि को मध्यनजर रखते हुए 15 अतिरिक्त काउन्टर्स स्थापित करने हेतु मै0 त्रिलोक सिक्योरिटी सिस्टम द्वारा कार्यवाही की जा रही है इस प्रकार आगामी चार धाम यात्रा में 14 फोटो मैट्रिक पंजीकरण केन्द्रों के 50 काउन्टर्स के माध्यम से यात्री पंजीकरण का कार्य किया जायेगा।

इस के साथ ही देश विदेश के चार धाम आने वाले यात्रियों हेतु आॅनलाइन पंजीकरण की सुविधा 50 रू0 प्रतिव्यक्ति की दर से पूर्व वर्षो की भांति सुलभ रहेगी। चार धाम 2016 के लिये अब तक 68 यात्रियों द्वारा आनलाइन पंजीकरण कराया जा चुका है। वर्तमान में रेलवे स्टेशन हरिद्वार, रोडवेज बस स्टैन्ड ऋ़षिकेश एवं पंडित दीनदयाल उपाध्याय पार्किंग में पंजीकरण काउन्टर्स संचालित हो रहे हैं। इन में पैदल चार धाम करने वाले 57 तीर्थ यात्रियों/साधुओं द्वारा अब तक पंजीकरण करवाया गया है। शेष 11 स्थानों पर 6-7 मई से फोटोमैट्रिक पंजीकरण कार्य प्रारम्भ कर दिया जायेगा।