लॉकडाउन के चलते बोट संचालकों को नुकसान

कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने रविवार को कोटी कॉलोनी पहुंचकर झील में बोट संचालन से जुड़े युवाओं की समस्याओं को सुना। उन्होंने कहा कि सरकार को बोट संचालकों की समस्याओं का शीघ्र समाधान करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवाड़ी के समय में टिहरी झील को पर्यटन व वाटर स्पोट्रर्स स्थल के रूप में विकसित करने की योजना बनाई गई थी। जिस पर तेजी से काम करते हुए झील में बोट संचालन शुरू कराया गया।

लेकिन, वर्तमान में लॉकडाउन के चलते बोट संचालकों को नुकसान उठाना पड़ा। इनमें अधिकतर व्यवसायी बांध विस्थापित व प्रभावित है। पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने कहा व्यवसाय को बचाने के लिए सरकार आगे आए।

बोट संचालकों के सभी टैक्स पांच सालों के लिए माफ किए जाए। प्रत्येक बोट संचालक को 22 मार्च 2020 से 22 सितंबर तक प्रतिमाह की दर से दस हजार रुपये आर्थिक सहायता के रूप में दिए जाए।

उपाध्याय ने कहा कि उन्होंने पूर्व में भी बोट संचालकों की समस्याओं से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को अवगत कराया था।