सुप्रीम कोर्ट ने यूपीआई ट्रांजेक्शंस को लेकर केंद्र, गूगल, अमेजन और फेसबुक को भेजा नोटिस

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को केंद्र सरकार, गूगल, अमेजॉन और फेसबुक/वॉट्सऐप को सीपीआई सांसद बिनॉय विश्वम की याचिका पर नोटिस जारी किया है।

  • सीपीआई सांसद ने याचिका दायर कर यूपीआई के जरिए से किए गए लेन-देन पर डेटा सुरक्षा की मांग की थी।
  • चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एसए बोबडे की अध्यक्षता वाली तीन जजों की पीठ ने कहा, ”हम नोटिस जारी करेंगे।”
  • विश्वम के लिए उपस्थित वरिष्ठ एडवोकेट श्याम दीवान ने कहा कि आरबीआई ने अप्रैल 2018 में एक आदेश जारी कर इन बहुराष्ट्रीय कंपनियों से कहा कि वे सुनिश्चित करें कि इन मंचों पर लेन-देन का डेटा भारत के भीतर एक सर्वर में सुरक्षित हो।
  • इसको अक्टूबर 2018 तक पूरा किया जाना था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।
  • सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को केंद्र सरकार, गूगल, अमेजॉन और फेसबुक/वॉट्सऐप को सीपीआई सांसद बिनॉय विश्वम की याचिका पर नोटिस जारी किया है।
  • सीपीआई सांसद ने याचिका दायर कर यूपीआई के जरिए से किए गए लेन-देन पर डेटा सुरक्षा की मांग की थी।
  • चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एसए बोबडे की अध्यक्षता वाली तीन जजों की पीठ ने कहा, ”हम नोटिस जारी करेंगे।”
  • विश्वम के लिए उपस्थित वरिष्ठ एडवोकेट श्याम दीवान ने कहा कि आरबीआई ने अप्रैल 2018 में एक आदेश जारी कर इन बहुराष्ट्रीय कंपनियों से कहा कि वे सुनिश्चित करें कि इन मंचों पर लेन-देन का डेटा भारत के भीतर एक सर्वर में सुरक्षित हो।
  • इसको अक्टूबर 2018 तक पूरा किया जाना था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।
  • इसके अलावा, उन्होंने सुप्रीम कोर्ट को यह भी बताया कि फेसबुक के साथ वॉट्सेएप का डेटा भी भारत के बाहर स्थित सर्वर में स्टोर किया जाता है।