बिहार में 15 सितंबर से सभी आंगनबाड़ी केंद्र और छोटे बच्चों के स्कूल खोलने का फैसला

बिहार: शुक्रवार को नीतीश कुमार की अध्यक्षता में आपदा प्रबंधन समूह की बैठक हुई

  • कोरोना के मामले लगातार कम होने पर बिहार की नीतीश सरकार ने बड़ा फैसला लिया है।
  • सीएम नीतीश कुमार ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि 15 नवंबर से आंगनबाड़ी और छोटे बच्चों के लिए सरकारी स्कूल फिर से खुलेंगे। 
  • साथ ही उन्होंने यह भी जानकारी दी है कि सभी लोगों को वैक्सीन भी लगाई जाएगी। बीते गुरुवार को बिहार के मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण ने सभी जिलाधिकारियों से फीडबैक लिया था।
  • इसके बाद शुक्रवार को मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में आपदा प्रबंधन समूह की बैठक हुई।
  • इसमें 15 सितंबर से सभी आंगनबाड़ी केंद्र और छोटे बच्चों के स्कूल खोलने का फैसला लिया गया है। इसकी जानकारी खुद सीएम ने ट्वीट करके दी।

15 नवंबर, 2021 तक सभी आंगनवाड़ी केंद्र एवं छोटे बच्चों के विद्यालय को खोलने का निर्णय

  • सीएम नीतीश कुमार ने लिखा कि कोरोना महामारी संबंधी प्रतिबंधों के सकारात्मक परिणाम आए हैं।
  • आज स्थिति की समीक्षा कर 15 नवंबर, 2021 तक सभी आंगनवाड़ी केंद्र एवं छोटे बच्चों के विद्यालय को खोलने का निर्णय लिया गया है।
  • इसके अलावा ट्वीट कर लिखा कि आगामी त्योहारों के दौरान जुलूस तथा भीड़ प्रबंधन हेतु जिला प्रशासन आदेश निर्गत करेंगे।
  • कोरोना संक्रमण के ज्यादा मामले वाले राज्यों से आनेवाले यात्रियों की अनिवार्य कोविड जाँच कराई जाएगी।
  • इसके अलावा सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि सभी पात्र व्यक्तियों का टीकाकरण कराया जाएगा। पूर्व के शेष निर्णय जारी रहेंगे।
  • अभी भी कोविड अनुकूल व्यवहार और सावधानी जरूरी है। बता दें कि इससे पहले 25 अगस्त को अनलॉक-6 में सरकार ने लोगों को काफी छूट दी थी। जहां बड़े बच्चों के स्कूल खोले गए वहीं सार्वजनिक स्थलों पर लगे प्रतिबंध को हटा दिया गया था।