बब्बर खालसा इंटरनेशनल (बीकेआई) के गिरफ्तार आतंकियों का पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से कनेक्शन ,

बब्बर खालसा आतंकियों का खुलासाः आईएसआई के संपर्क में थे दहशतगर्द

बब्बर खालसा इंटरनेशनल (बीकेआई) के गिरफ्तार आतंकियों का पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से कनेक्शन सामने आया है। गिरफ्तार आतंकी भूपेंद्र सिंह उर्फ दिलावर सिंह ने पूछताछ में खुलासा किया कि वह आईएसआई के एजेंट डोगर के संपर्क में था।

पंजाब में बना रखे थे व्हाट्स एप ग्रुप; आतंकी भूपेंद्र सिंह डोगर के इशारे पर पंजाब व हरियाणा में खालिस्तान समर्थकों एकत्रित करने में जुटा था। इसके लिए उसने लगभग 10 व्हाट्सएप ग्रुप बना रखे थे। ग्रुप के नाम उसने एके और एकेएस जैसे कोडवर्ड में रखे थे। इन ग्रुप में उसने पंजाब के काफी खालिस्तान समर्थकों को जोड़ा हुआ है। हर ग्रुप में आठ से दस लोग जुड़े थे। इसके अलावा उसने पाकिस्तान के लोगों के करीब चार व्हाट्सएप ग्रुप बना रखे थे।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि भूपेंद्र सिंह जेल से जुलाई, 2019 में बाहर आया था। इसके बाद वह वर्ष 2019 के आखिरी माह में आईएसआई के एजेंट डोगर के संपर्क में आया। भूपेंद्र फेसबुक के जरिये हैंडलर डोगर के संपर्क में था। इसके बाद वह डोगर से फेसबुक पर चैटिंग व व्हाट्सएप कॉल करने लगा। डोगर का नाम उसने मोबाइल में कोड वर्ड में सेव किया हुआ है।
भूपेंद्र ने डोगर को हथियार भारत पहुंचवाने व दिलवाने के लिए कई बार बोला था। पुलिस अधिकारियों के अनुसार डोगर खालिस्तान समर्थकों को भारत के खिलाफ उकसाता रहता है। वह फेसबुक समेत सोशल मीडिया के जरिये खालिस्तान समर्थकों के संपर्क करता है। पूछताछ में यह भी बात सामने आई है कि डोगर व बेल्जियम में बैठे खालिस्तान समर्थक धन्ना सिंह आपस में संपर्क में हैं। डोगर के कहने पर धन्ना सिंह ने इनको हथियार उपलब्ध कराए थे।

भूपेंद्र सिंह को बीकेआई का खतरनाक आतंकी बताया जा रहा है। इस कारण देश की सुरक्षा एजेंसियां दोनों आतंकियों से संयुक्त रूप से पूछताछ कर रही है। दोनों से करीब तीन बार संयुक्त रूप से पूछताछ हो चुकी है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि भूपेंद्र सिंह पूछताछ में सहयोग नहीं कर रहा है।