उत्तर प्रदेश में राज्यसभा चुनाव से पहले BSP को बड़ा झटका

  •  उत्तर प्रदेश में राज्यसभा चुनाव (Rajya Sabha election) से पहले बहुजन समाज पार्टी (BSP) को बड़ा झटका लगा है।
  • पार्टी के छह विधायकों ने बगावत कर दी है।
  • इन विधायकों ने राज्यसभा चुनाव के लिये पार्टी प्रत्याशी के नामांकन में प्रस्तावक के तौर पर किये गये अपने हस्ताक्षरों को फर्जी बताते हुए बुधवार को पीठासीन अधिकारी को एक शपथपत्र दिया।

विधायकों ने हस्ताक्षर बताए फर्जी

बसपा विधायक असलम चौधरी, मुज्तबा सिद्दीकी, हाकिम लाल बिंद और असलम राइनी ने पीठासीन अधिकारी को दिये गये शपथपत्र में कहा है कि राज्यसभा चुनाव के लिये बसपा के प्रत्याशी रामजी गौतम के नामांकन पत्र पर प्रस्तावक के तौर पर किये गये उनके हस्ताक्षर फर्जी हैं। उनके साथ विधायक सुषमा पटेल और हरिगोविंद भार्गव भी थे।

नामांकन पत्रों की हो रही है जांच

  • आगामी नौ नवम्बर को होने वाले राज्यसभा चुनाव के लिये नामांकन पत्रों की आज जांच की जा रही है। सूत्रों के मुताबिक पीठासीन अधिकारी इन बसपा विधायकों की शिकायत पर गौर करके उचित निर्णय लेंगे।
  • गौरतलब है कि पर्याप्त संख्याबल नहीं होने के बावजूद बसपा ने पार्टी के राष्ट्रीय समन्वयक और बिहार इकाई के प्रभारी रामजी गौतम को राज्यसभा चुनाव में उम्मीदवार बनाया है।
  • गौतम ने गत सोमवार को नामांकन दाखिल किया था।