प्रेस की आजादी पर कुठाराघात – त्रिवेंद्र सिंह रावत

पत्रकार अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रेस की आजादी पर कुठाराघात बताया है। उन्होंने इस मामले से जुड़ा एक ट्वीट किया है।

  • जिसमें उन्होंने कहा है कि ‘रिपब्लिक चैनल के अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी अभिव्यक्ति और प्रेस की आजादी पर एक कुठाराघात है।
  • इमरजेंसी के दिनों की याद दिलाता ये कुकृत्य कांग्रेस संस्कृति का परिचायक है।
  • लोकतंत्र में ईमानदार पत्रकारिता करने वालों की आजादी इस तरह से बंद करने की मैं भर्त्सना करता हूं।’

मुंबई पुलिस ने आत्महत्या के एक पुराने मामले में किया गिरफ्तार

  • रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक अर्नब गोस्वामी को मुंबई पुलिस ने आत्महत्या के एक पुराने मामले में बुधवार को गिरफ्तार किया है।
  • मुंबई पुलिस अर्नब गोस्वामी के वर्ली स्थित निवास पर पहुंची और उन्हें गिरफ्तार किया।
  • अर्नब गोस्वामी का कहना है कि मुंबई पुलिस ने उनके साथ मारपीट की है।
  • रिपब्लिक टीवी ने अर्नब के घर के लाइव फुटेज को प्रसारित किया है, जिसमें देखा जा सकता है कि पुलिस और अर्नब के बीच झड़प हो रही है।

क्या है मामला 

  • यह मामला साल 2018 का है, जब 53 वर्षीय इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक और उनकी मां कुमुद नाइक ने मई 2018 में अलीबाग में आत्महत्या कर ली थी।
  • पुलिस को घटनास्थल से एक सुसाइड नोट मिला था, जिसमें कथित तौर पर कहा गया कि अर्नब गोस्वामी और दो अन्य लोगों ने उन्हें 5.40 करोड़ रुपये का भुगतान नहीं किया।
  • इस कारण उनकी आर्थिक स्थिति बिगड़ गई और उन्हें यह कदम उठाने के लिए मजबूर होना पड़ा।