महिलाओं की खोई हुई गरिमा को पुनः स्थापित करना होगा : डॉ० अंजलि वर्मा

अंकित तिवारी

डोईवाला राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ डोईवाला के तत्वावधान में मातृ शक्ति सम्मेलन का आयोजन डोईवाला स्थित शिव शक्ति भवन में किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ कार्यक्रम की मुख्य वक्ता डॉ० अंजलि वर्मा , कार्यक्रम की विशेष अतिथि स्पर्श गंगा की ब्रांड एम्बेसडर डॉ० ज्योति द्विवेदी औऱ कार्यक्रम की अध्यक्ष सत्येश्वरी राणा ने दीप प्रज्ज्वलित करके किया। कार्यक्रम में चंद्रलेखा,शांति असवाल ने एकल गीत की प्रस्तुति दी।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कार्यक्रम की मुख्य वक्ता प्रो० डॉ० अंजलि वर्मा ने महिलाओं के सम्मान व सशक्तिकरण के विषय को उठाते हुए कहा कि – ” नारी के संग होने वाली समस्त समस्याओं का आधार समाज में व्याप्त रूढ़िवादी एवं जटिल मान्यताएं हैं। डॉ० वर्मा ने अपने शिक्षाप्रद पूर्वाग्रहों के स्पष्टीकरण से महिलाओं की समाज में भूमिका, योगदान व महत्व पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि डॉ० ज्योति द्विवेदी ने कहा कि ऐसे कार्यक्रमों के माध्यम से समाज की मानसिकता में परिवर्तन लाने हेतु , नारी का शैक्षिक व आर्थिक रूप से सशक्त होने की अनिवार्यता को समझाने का प्रयास किया जाता है।

ऐसे कार्यक्रमों का उद्देश्य महिलाओ को उनकी शक्ति का आभास करवाना व समाज में उनकी खोई हुई गरिमा को पुनः स्थापित करना रहा। उन्होंने कहा कि अवसरों के अभाव व महिलाओं के अपनी क्षमता से अनभिज्ञ होने के कारण समाज में मौजूदा विरोधाभास पर भी प्रकाश डाला। वक्ताओं ने कहा कि नारी के सम्मान की पुनर्स्थापना हेतु नारी को तो उसके वास्तविक स्वरुप का बोध करवाना ही है , साथ ही पुरुष को भी नारी की गरिमा का बोध करवाना आवश्यक है और ये दोनों ही तब तक संभव नहीं जब तक नारी और पुरुष दोनों अध्यात्म के स्तर पर जागृत होकर अपने आत्मस्वरूप से परिचित नही हो जाते”।

कार्यक्रम का संचालन कमला तिवारी ने किया ।कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से राजेन्द्र बडोनी,बालम सिंह रावत,सुरेंद्र वर्मा, शशि मोहन उनियाल, हरिओम गुप्ता, सुभाष कृषाली,संजय प्रजापति, प्रवीण, विकास गौड़, नरेंद्र नेगी,देवी प्रशाद उनियाल, लक्ष्मी प्रशाद बहुगुणा, अंकित टम्टा, निशांत मिश्रा, आयुष काला आदि मौजूद थे।