शहर के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू, एक की मौत

जयपुर के रामगंज इलाके में एक कांस्टेबल द्वारा एक दंपति को कथित रूप से पीटने पर हिंसक प्रदर्शन हुए और प्रदर्शनकारियों पर पुलिस की गोलीबारी में एक व्यक्ति की मौत हो गई। हालात को काबू में करने के लिए शहर के चार पुलिस थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगाया गया है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि इंटरनेट सेवाएं भी निलंबित कर दी गई हैं और जिन इलाकों में कर्फ्यू लगाया गया है, वहां स्कूल बंद हैं।

पुलिस आयुक्त संजय अग्रवाल ने कहा, ”पुलिस कांस्टेबल और मोटरसाइकिल सवार एक दंपति के बीच शुक्रवार देर रात कोई मामूली विवाद हुआ जिसके कारण स्थानीय लोगों एवं पुलिस के बीच संघर्ष हुआ। इसके बाद हिंसा वाले रामगंज इलाके में देर रात करीब एक बजे कर्फ्यू लगा दिया गया।’’ उन्होंने बताया कि आरोप हैं कि कांस्टेबल ने किसी बात को लेकर दंपति को पीटा जिसके बाद स्थानीय लोगों की भीड़ रामगंज पुलिस थाने के पास पहुंच गई और आगजनी की। भीड़ ने एक एम्बुलेंस और एक पुलिस जीप समेत पांच वाहनों को आग लगा दी और 21 अन्य वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया।

पुलिस ने उत्तेजित भीड़ को तितर बितर करने के लिए रबड़ की गोलियों और आसूं गैस का प्रयोग किया। अग्रवाल ने बताया कि हालात बेकाबू होने पर पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाईं जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई जिसकी पहचान मोहम्मद रईस के रूप में की गई है। जयपुर से होकर गुजरने वाले दिल्ली-आगरा मार्ग को परिवर्तित कर दिया गया है। आयुक्त ने बताया कि हिंसाग्रस्त इलाकों में राजस्थान सशस्त्र कांस्टेबुलरी एवं होम गार्ड के जवानों समेत सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं।