गंभीर धोखाधड़ी जांच कार्यालय ने फोर्टिस हेल्थकेयर से सूचना

दस्तावेज उपलब्ध कराने को कहा

नई दिल्ली। फोर्टिस हेल्थकेयर को गंभीर धोखाधड़ी जांच कार्यालय (एसएफआईओ) से नोटिस मिला है. नोटिस में कंपनी को कुछ सूचना और दस्तावेज नौ मार्च तक उपलब्ध कराने को कहा गया है. फोर्टिस हेल्थकेयर में वित्तीय अनियमितताओं के मामले सामने आने के बाद कारपोरेट कार्य मंत्रालय स्वास्थ्य सेवा से जुड़ी कंपनी के प्रकरण को देख रहा है.

क्या कहना है फोर्टिस हेल्थकेयर का?

फोर्टिस हेल्थकेयर ने बंबई शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि कंपनी को कारपोरेट कार्य मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले एसएफआईओ से नोटिस मिला है. नोटिस में कंपनी को कुछ सूचना और दस्तावेज नौ मार्च तक उपलब्ध कराने को कहा गया है. बयान के अनुसार, ”कंपनी संबंधित सूचना एकत्रित कर रही है और निर्धारित समय पर उसे साझा करेगी….

फोर्टिस हेल्थकेयर के प्रवर्तक मलविन्दर सिंह और शिविन्दर सिंह द्वारा करीब एक साल पहले कथित रूप से कंपनी निदेशक मंडल की मंजूरी के बिना कम-से-कम 7.8 करोड़ डालर लिये जाने का मामला सामने आने के बाद एसएफआईओ ने यह कदम उठाया है. फोर्टिस हेल्थकेयर बाजार नियामक सेबी की जांच के घेरे में भी है. बाजार नियामक ने कंपनी में कथित नियामकीय चूक की जांच शुरू की है.