पाकिस्तान का झण्डा जलाया आक्रोश जताकर शहीद सैनिकों को दी श्रृद्धांजली

screenshot_2016-09-20-21-47हल्दी(पन्तनगर)- उरी में सेना के कैंप पर हुए अब तक के सबसे बड़े आतंकी हमले के बाद देश भर में आक्रोश बढ़ा है। जिसमें हल्दी क्षेत्र के वासियों का भी अपना आक्रोश सड़क पर उतर आया। मंगलवार सांय हल्दी के मुख्य बाजार में पाकिस्तान की संलिप्ता वाली आतंकी वारदात जिसमें देश के 17 वीर जवान शहीद हो गये से आक्रोशित लोगों ने पाकिस्तान के झण्डे और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की तस्वीर को पाकिस्तान मुर्दाबाद, हिन्दुस्तान जिन्दाबाद जैसे तीखी नारे बाजी करते हुए जला दिया।

इसके बाद लोंगों ने पूरे क्षेत्र में भारत के अमर शहीदों को श्रृद्धांजली देते हुए कैन्डल मार्च निकाला गया जो मुख्य बाजार से होते हुए हल्दी क्षेत्र की आवासीय कालोनियों से होते हुए, परिसर के बाहर नेशनल हाईवे पर पन्तनगर थाना के सामने से होते हुए पुनः मुख्य बाजार आकर रूका। कैन्डल से भारत का मानचित्र बना दो मिनट का मौन रख माँ भारती के अमर शहीद वीर सपूतों को श्रृद्धांजली अर्पित करी गई। इस आतंकी घटना से आक्रोशित पवन दूबे ने बताया कि उरी में हए आतंकवादी हमले मंे शहीद 17 सैनिकों की शहादत को अपने दिलों में संजोए परिसर का हर शख्स उनके लिये अपने जज्बातों की शमां हाथों में जलाए अपने हिस्से की श्रृद्धांजली देने को आतुर था।

भीड़ के बीच रह-रह कर उन्मादी नारे मानों कह रहे थे इन शमाओं की आग तेरे बदले के बाद ही बुझेगी। आज यदि देश की खातिर हथियार भी उठाना पढ़े देश का हर नौजवान तन-मन से तैयार मिलेगा कोई नौजवान पीछे हटने वाला नहीं है। आक्रोश जताने वालों में सत्येन्द्र मिश्रा, अभिमन्यू चौबे, शशिकान्त मिश्रा, पवन दूबे, शिवम कालिया, सुनील कुमार, शिवचन्द्र्र, कामेश्वर पाण्डे, राहुल यादव, अजय कुमार, उमेश, दीपक, जीतू, अमन, मुकेश एवं अन्य परिसर वासी उपस्थित थे।