पानी की समस्या का प्राथमिकता से समाधान

v8jm7rfhअल्मोड़ा। पेयजल सम्बन्धी शिकायतों का निस्तारण यथासमय करने के साथ ही पानी की समस्या का प्राथमिकता से समाधान करना होगा यह निर्देश मा0 पेयजल मंत्री प्रकाश पंत ने एडम्स पम्प हाउस के औचक निरीक्षण के दौरान अधिकारियों केा दिये। उन्होंने कहा कि पेयजल व्यवस्था दुरूस्त रखी जाय और यह प्रयास किया जाय कि ससमय शिकायतों का निस्तारण हो सके। पेयजल मंत्री ने शिकायत पंजिका का अवलोकन करने के दौरान इस बात पर नाराजगी व्यक्त की कि शिकायत को विस्तृत रूप से दर्ज नहीं किया जा रहा है जिससे यह मालूम नहीं हो पा रहा है कि वास्तविक क्या शिकायत शिकायतकर्ता की है इसलिए भविष्य में शिकायतकर्ता जो भी अपने कथन लिखवाता है उसे अवश्य अंकित किया जाय।

उन्होने पेयजल शिकायत हेतु जो कन्ट्रोल रूम बनाया गया है उसे 24 घण्टे चालू रखा जाय और प्रतिदिन यह भी अधिकारी सुनिश्चित करेंगे कि किस क्षेत्र में पेयजल की आपूर्ति नहीं हो पायी है ताकि उसका संज्ञान लेते हुए समस्या का निदान किया जा सके। इस अवसर पर पेयजल मंत्री ने नगरीय पम्पिंग योजना के बारे में विस्तृत जानकारी विभागीय अधिकारियों  से प्राप्त की और कहा कि इसके सुधार हेतु क्या किया जा सकता है वे एक ठोस सुझाव बनाकर दें ताकि उस पर शासन स्तर निर्णय लिया जा सके। नई पम्पिग योजना हेतु जो धनराशि स्वीकृत हुई है उसकी भी जानकारी प्राप्त की और कहा कि यहां की पेयजल समस्या को देखते हुए उसपर बजट की स्वीकृती की कार्यवाही के लिए कार्य किया जाएगा।

GST Ads 250x250px
पेयजल मंत्री ने महाप्रबन्धक जल संस्थान एच0के0 पाण्डे से कहा कि जनपद में जहां भी पेयजल समस्या की शिकायतें प्राप्त हो रही हैं उसका संज्ञान लेते हुए लोगों को पेयजल उपलब्ध करायें इसके अलावा कुमांऊ मण्डल में जहां पर भी इस तरह की शिकायतें प्राप्त होती हैं उसका निराकरण यथा समय कर दिया जाय। उन्होने कहा कि पम्पों की सफाई के साथ-साथ उनमें दवाईयों का छिड़काव किया जाय ताकि जल जनित रोगों से बचाव हो सके। उन्होंने अनेक जनप्रतिनिधियों से भी सुझाव देने को कहा कि नगर की पेयजल समस्या का निदान और अधिक बेहतर ढ़ग से हो सके। पेयजल मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि स्वयं मेरे द्वारा अनेक पंम्पिग योजनाओं सहित ग्रामीण क्षेत्रों को औचक निरीक्षण किया जायेगा यदि कही पर भी कोई लापरवाही दृष्टिगोचर होगी तो उसे गम्भीरता से लिया जायेगा। इस अवसर पर अधीक्षण अभियन्ता जल संस्थान संजीव मित्र, अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान नन्द किशोर, भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष गोविन्द पिल्खवाल, हरीश पंत, श्रीमती किरन पंत सहित अनेक जनप्रतिनिधि व पेयजल विभाग से जुडे़ अधिकारी उपस्थित थे।