मोदी ने 230 बेड वाले वैष्णो देवी सुपरस्पेशलिटी अस्पताल का किया उद्घाटन

आर.बी.एल.निगम

RBL Nigam19 अप्रैल 2016 को प्रधानमंत्री  बनने के बाद मां वैष्णोदेवी के आधार शिविर कटरा में दूसरी बार आए नरेंद्र मोदी ने अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस 230 बिस्तरों वाले सुपरस्पेशलिटी अस्पताल का औपचारिक उद्घाटन किया।

मोदी ने ककरयाल गांव में श्रीमाता वैष्णो देवी तीर्थस्थल बोर्ड की ओर से 300 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित इस अस्पताल का उद्घाटन किया।

इस मौके पर प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री डा जितेंद्र सिंह, राज्यपाल एन एन वोहरा, मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती, उप मुख्यमंत्री निर्मल सिंह, रेयासी से विधायक वित्त एवं राज्य मंत्री अजय नंदा, अस्पताल की संचालक कंपनी नारायण हृदयालय प्राइवेट लिमिटेड के अध्यक्ष डा. देवी प्रसाद शेट्टी तथा राज्य सरकार के कई मंत्री एवं विधायक तथा बोर्ड के अधिकारी मौजूद थे।

modi194161 इस अस्पताल में ओपीडी एवं डायग्नोस्टिक सेवा 15 मार्च से और मरीजों का इलाज नवरात्र के पहले दिन आठ अप्रैल से शुरू हो गया था। यह बोर्ड एवं नारायण हृदयालय प्राइवेट लिमिटेड का संयुक्त उपक्रम है।

इसमें कैंसर, दिल और तंत्रिका तंत्र की बीमारियों और अस्थि मज्जा के प्रत्यारोपण की खास सुविधा उपलब्ध है। करीब 254 वर्गफुट क्षेत्र में बने अस्पताल में मेडिसिन और सर्जरी के 20 से ज्यादा विभाग हैं। इसमें कार्डियोलोजी, कार्डियो थोरेसिक सर्जरी, न्यूरोलॉजी, न्यूरो सर्जरी, नेफ्रोलॉजी, यूरोलॉजी, आंकोलॉजी, गैस्ट्रोएन्टेरोलॉजी, ऑर्थोपेडिक्स, ट्रॉमा मेडिसिन जैसे विभाग हैं।

अत्याधुनिक कम्प्यूटरीकृत उपकरणों से लैस एमआरआई, सीटी स्कैन, कैथ लैब, अत्याधुनिक डायलिसिस यूनिट, कैथ लैब एंडोस्कोपी, गामा कैमरा तथा लीनियर एक्सेलेरेटर और ब्रांची थेरेपी जैसे सुविधाएं उपलब्ध हैं।

बोर्ड ने 18 अप्रैल को अहम बैठक करके फैसला किया है कि यदि यात्रा के दौरान किसी श्रद्धालु को परेशानी हो जाती है तो अस्पताल में उसका मुफ्त इलाज होगा। यदि उसे पहले से कोई बीमारी है तो हालत स्थिर होने तक इलाज की सुविधा मिलेगी। इसके आसपास के सिरा, ककरयाल, कोटला और सूल गांव के लोगों को तथा अस्पताल और विश्वविद्यालय के लिए जमीन देने वालों को मुफ्त ओपीडी की सुविधा मिलेगी। जमीन देने वालों को एक लाख रुपये तक की बीमा सुविधा भी मिलेगी।

बोर्ड, एसएमवीडी गुरुकुल और एसएमवीडी कॉलेज आफ नर्सिंग के कर्मचारियों को कैशलेस सामूहिक स्वास्थ्य बीमा और मुफ्ती ओपीडी की सुविधा मिलेगी।

इस अस्पताल की ख़ास बात यह है कि इसमें माता वैष्णो देवी का भी नाम और और हिन्दुओं के भगवान नारायण का भी नाम है। अब शायद जम्मू के लोग भूलकर भी इन देवताओं के नाम नहीं भूल पाएंगे। जो लोग ‘माता’ शब्द से नफरत करते हैं, उन्हें भी ‘माता’ बोलना पड़ेगा।

इससे पहले मोदी एक विशेष विमान से सुबह लगभग नौ बजे जम्मू हवाईअड्डे के तकनीकी क्षेत्र पहुंचे।राज्यपाल एन.एन.वोहरा, मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती, उपमुख्यमंत्री निर्मल सिह और केंद्र एवं राज्य सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी मोदी के स्वागत में हवाईअड्डे पर पहुंचे। मोदी जम्मू हवाईअड्डे के प्रौद्योगिकी क्षेत्र से सेना के एमआई-17 हेलीकॉप्टर में सवार होकर कटरा पहुंचे।

मोदी ने किया श्री माता वैष्णो देवी विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह को संबोधित

modi194162प्रधानमंत्री मोदी ने  जम्मू कश्मीर के कटरा में श्री माता वैष्णो देवी यूनिवर्सिटी में 5th कान्वोकेशन को संबोधित करते हुए यूनिवर्सिटी के छात्रों और अभिभावकों के अन्दर जमकर जोश भरा। उन्होंने अपने भाषण के दौरान कई ऐसी बातें की जिसे सुनकर यूनिवर्सिटी के छात्रों ने जमकर तालियां बजाई। मोदी ने कहा कि यूनिवर्सिटी में तो आपकी तपस्या पूरी हो गयी लेकिन आप लोगों की मंजिल अभी पूरी नहीं हुई है, अब तक किसी ने आपको यहाँ पहुँचाया है, अब आपको अपने आपको कहीं पहुँचाना है।

मोदी ने कहा की अब तक कोई ऊँगली पकड़कर आपको यहाँ पर लाया है लेकिन अब आप आपको अपने मकसद को लेकर खुद को कसौटी पर कसते हुए मंजिल को पाने के लिए अनेक चुनौतियों को झेलते हुए आगे बढ़ना है लेकिन यह तब संभव होता है कि आप यहाँ से क्या लेकर जाते हैं, आपके पास कौन सा खजाना है जो आपकी जिन्दगी बनाने के काम आता है, जिसने यह खजाना भर लिया है, उनके जीवन में सभी मोड़ों पर यह खजाना काम आने वाला है।

मोदी ने कहा कि जो छात्र भविष्य के बारे में पहले से सोचता है उसके लिए कुछ भी मुश्किल नहीं होता लेकिन जो छात्र भविष्य को ध्यान में रखकर पढ़ाई नहीं करता उसके भविष्य पर प्रश्नचिन्ह लग जाता है।

मोदी ने कहा की जब माँ बाप संतान को जन्म देते हैं तो उनकी ख़ुशी की कोई सीमा नहीं होती लेकिन जब संतान जीवन में सिद्धि प्राप्त करता है तो माँ बाप को असीम आनंद प्राप्त होता है यह ख़ुशी जन्म देने के बाद वाली ख़ुशी से हजारों गुना अधिक होती है।

मोदी ने कहा कि जब आपके माँ बाप को आपके जन्म से भी अधिक ख़ुशी आपके जीवन से मिलती है तो आपकी जिम्मेदारी काफी बढ़ जाती है। आपके माँ बाप आपके जीवन के लिए जो सपने देखे होंगे उसे आपको पूरा करना होगा।

मोदी ने कहा की जब आपको मनीआर्डर मिलने में देरी होती है तो आप परेशान हो जाते हैं लेकिन आपके माँ बाप और परेशान होते हैं और अगली बार वे अपना खर्चा कम करके आपके लिए सही समय पर पैसे की व्यवस्था करते हैं।

मोदी ने कहा की आपके माँ बाप बचपन में आपको डॉक्टर या इंजीनियर बनाने का सपना देखते हैं लेकिन जब आपके नम्बर कम आ जाते हैं तो आप यूनिवर्सिटी में जाते हैं और सोचते रहते हैं की मुझे जाना तो वहां था लेकिन मै यहाँ आ गया, मोदी ने कहा की जो लोग ऐसी सोच रखते हैं उन्हें जीवन में बहुत कष्ट मिलता है इसलिए मेरा आपसे अनुरोध है कि पिछली बातों को भूलकर यहाँ से जो विरासत मिली है उसे लेकर जाइए और पूरी ताकत से अपने आने वाले दिनों के बारे सोचिये, मुझे विश्वास है की आपकी जिन्दगी बन जाएगी।

मोदी ने कहा की, निराशा, कुंठा, टूटे सपने, और असफलता बोझ नहीं बनने चाहियें बल्कि शिक्षा का कारण बनना चाहिए, उससे कुछ सीखना चाहिए, अगर हम इससे सीख लेते हैं तो जिन्दगी में आने वाली परेशानियों से लड़ने की ताकत मिलती है। मोदी ने कहा की अगर आपके अन्दर हौसला है तो आप कुछ भी कर सकते हैं।

इस यूनिवर्सिटी पर गर्व होना चाहिए

मोदी ने कहा की भारत की सभी यूनिवर्सिटी भारतीय करदाताओं के टैक्स या आपके माँ बाप द्वारा दी गयी फीस से चलती हैं लेकिन यही एक यूनिवर्सिटी है जो माता वैष्णो देवी के आशीर्वाद से चलती है है और माता जी के चरणों में हैं।

मोदी ने कहा की जिन गरीब लोगों ने माता जी को पैसे चढ़ाए हैं उसके पास घोड़े पर बैठने के भी पैसे नहीं होंगे, वह अपने गाँव से बिना रिजर्वेशन से चला होगा, माँ को चढ़ावा चढाने के लिया अपना एक टाइम का खाना छोड़ दिया होगा। हिंदुस्तान के हर कोने से ऐसे गरीब लोगों ने माता वैष्णो देवी के चरणों में कुछ ना कुछ दिया होगा, उसने देते समय सोचा होगा कि कुछ पुण्य कमा लूँ, उसी का परिणाम है की उन्हें पुण्य कमाने का सौभाग्य प्राप्त हुआ और आपने इस यूनिवर्सिटी में पढ़ाई की।

मोदी ने कहा की आपकी शिक्षा दीक्षा में, इन दीवारों और इमारतों में गरीबों के सपनों का वास रहता है इसलिए हमारा भाव उन कोटि कोटि गरीबों के प्रति रहना चाहिए जिनके एक/दो रुपये के दान से यह यूनिवर्सिटी चल रही है, उन्होंने कहा की दुनिया में कोई और यूनिवर्सिटी नहीं होगी जो गरीबों के दान से चलती होगी, हमें इस यूनिवर्सिटी पर गर्व होना चाहिए।

स्पोर्ट्स कांप्लेक्स का उदघाटन

modi194163ध्यान रहे कि जम्मू कश्मीर में नयी सरकार बनने के बाद वहां यह उनका पहला दौरा है।प्रधानमंत्री ने जम्मू कश्मीर में हिंदुस्तान और जम्मू कश्मीर को हिंदुस्तान का सिरमौर भी बताया।

स्पोर्ट्स कांप्लेक्स का उदघाटन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मुफ्ती साहब के दिमाग में एक बात हमेशा रहती थी कि देश को आगे बढ़ाने के लिए जम्मू कश्मीर को आगे बढ़ाना होगा। वे यह चाहते थे कि जम्मू व श्रीनगर के बीच में जो दूरी महसूस होती है उसे खत्म करना है। और हर हिंदुस्तानी जम्मू कश्मीर पर गर्व करे।

प्रधानमंत्री ने दीक्षांत समरोह में मुख्यमंत्री महबूबा की तारीफ तो की ही, स्पोर्ट्स कांप्लेक्स के उदघाटन के समय भी उन्होंने उनकी प्रशंसा के पुल बांधे। पीएम ने कहा कि महबूबा पूरे मनोयोग व लगन के साथ राज्य के लिए काम कर रही हैं और विकास का काम जब लगन बन जाता है तो वह सफल होता है।

modi194164प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वैष्ष्णो देवी आकर तीन लाभ प्राप्त हुए। विश्वविद्यालय में नवजवानों से मिलने का अवसर मिला। जम्मू कश्मीर देश के सभी राज्यों के छात्रों को यहां शिक्षा-दीक्षा का काम करता है। यह अपने अाप में जम्मू कश्मीर की पहचान है, जो ताकत देता है और गौरव प्रदान करता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू कश्मीर के लिए अपनी सरकार द्वारा किये गये कार्यों का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि 80 हजार करोड़ रुपये का पैकेज जम्मू कश्मीर के लिए दिया है। भारत सरकार पूरी ताकत से जम्मू कश्मीर का भाग्य बदलने के लिए काम कर रही है। उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी के प्रति जम्मू कश्मीर के लोगों में अपार श्रद्धा थी। ऐसे बहुत कम नेता हैं। अटल जी कहते थे कि इंसानियत, कश्मीरियत और जम्हूरियत के माध्यम से जम्मू कश्मीर को आगे ले जाना है। उन्होंने जम्मू कश्मीर में पर्यटन को बढ़ाने पर भी जोर दिया।

कश्मीरी नवजवान देश में चमकता है तो होता है गर्व

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज मुझे एक और अवसर मिला स्पोर्ट्स कांप्लेक्स का उदघाटन करने का। अगर खेल नहीं है तो जीवन में खिलना असंभव हो जाता है। जो खेलता है वही खिलता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि जब कश्मीर का नवजवान देश में चमकता है तो सिना गर्व से फूल जाता है। उन्होंने कहा कि 2017 में फीफा वर्ल्ड कप अंडर 17 भारत में होने जा रहा है। यह वर्ल्ड कप भारत के नौजवानों में नयी ताकत भरने वाला अवसर होना चाहिए।


फोटो पर क्लिक करें और खबर से संबंधित वीडियो देखें…

modi194165