मतदाता सूची में अपना नाम दर्ज करना जरूरी है : DM

चमोली। राजकीय बालिका इण्टर काॅलेज गोपेश्वर में जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी आशीष जोशी ने युवा एवं भावी मतदाताओं के मध्य इन्टैªक्टिव स्कूल इगेजमेंन्ट प्रोग्राम का शुभांरभ किया। इस अवसर जिलाधिकारी ने छात्राओं को मतदान की महता के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए मतदान से संबधित सवाल जबाव किये तथा छात्राओं की शंकाओं का समाधान भी किया।

जिलाधिकारी ने छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि भावी मतदाता और 18 वर्ष पूर्ण होने पर उन्हें मतदातात सूची में अपना नाम दर्ज करना जरूरी है, तभी वह आर्दश और सशक्त समाज एवं मजबूत लोकतंत्र के निर्माण में अहम भूमिका निभा सकते है। उन्होंने कहा कि 9वीं से 12वीं तक के छात्राऐं जिनकी उम्र 15 से 17 वर्ष के बीच है, वह देश के भावी मतदाता है, जिनका मतदान अमूल्य है। उन्होंने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग का लक्ष्य है कि भावी मतदाताओं को मतदान के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। कहा कि आज कई युवा ऐसे है जिनका नाम मतदाता सूची में दर्ज नही है। इसकी वजह जागरूकता की कमी है। इसलिए अभी से हमें अपना मताधिकार के प्रयोग की पूरी जानकारी होनी चाहिए। उन्होंने बताया कि 18 वर्ष पूर्ण होने पर सभी छात्राऐं अपना नाम मतदाता सूची में अवश्य दर्ज करें और इसकी जानकारी अधिक से अधिक लोगों को दे ताकि वे अपने मताधिकार के प्रयोग से वंचित न रहे।

जिलाधिकारी ने कहा कि छात्राऐं अपने-अपने घर और गांवों में सभी लोगों को मतदान के प्रति जागरूक करें ताकि कोई भी व्यक्ति मतदाता सूची में नाम दर्ज करने से वंचित न रहे। उन्होंने कहा कि वोट डालना प्रत्येक नागरिक का अधिकार है। इसके लिए वोट डालने की प्रक्रिया को भी समझना जरूरी है। उन्होंने आयोजित होने वाले जागरूकता कार्यक्रमों में अपनी सभी शंकाओं का समाधान करने को कहा।

नोडल अधिकारी स्वीप/महाप्रबन्धक जिला उद्योग केन्द्र डा. एमएस सजवाण ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार जिले के सभी विद्यालयों में इन्टैªक्टिव स्कूल इगेजमेंन्ट प्रोग्राम आयोजित किये जाने है। उन्होंनंे छात्राओं को मतदान के महत्व एवं मतदाता सूची में जुड़ने की विस्तृत रूप से जानकारी दी। इस अवसर पर मुख्य शिक्षा अधिकारी एलएम चमोला, खण्ड शिक्षा अधिकारी दर्शन लाल टम्टा, प्रधानाचार्य ममता शाह, बूथ लेवल आॅफिसर अतुल जोशी सहित स्कूल की शिक्षिकाऐं एवं छात्राऐं उपस्थित थी।