अधिकारियो को दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

रूद्रपुर। जिलाधिकारी डा0 नीरज खैरवाल द्वारा बहुक्षेत्रीय विकास कार्यक्रम (एमएसडीपी) के अन्तर्गत नये प्रस्ताओ की स्वीकृति एवं 11वीं एवं 12वीं पंचवर्षीय योजना के पुराने गतिमान कार्यो की समीक्षा की। कार्यो की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी द्वारा अधिकारियो को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।

उन्होने कहा 11वीं एवं 12वीं पंचवर्षीय योजना के अन्तर्गत जो भवन व निर्माण कार्य पूर्ण हो गये है, सम्बन्धित विभागो को हैंडओवर करने से पूर्व उस क्षेत्र के उप जिलाधिकारी उस भवन व निर्माण कार्य का निरीक्षण कर फोटोग्राफ सहित अपनी टिप्पणी प्रस्तुत करेंगे। रूद्रपुर 22 नवम्बर- जिलाधिकारी डा0 नीरज खैरवाल द्वारा बहुक्षेत्रीय विकास कार्यक्रम (एमएसडीपी) के अन्तर्गत नये प्रस्ताओ की स्वीकृति एवं 11वीं एवं 12वीं पंचवर्षीय योजना के पुराने गतिमान कार्यो की समीक्षा की।

कार्यो की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी द्वारा अधिकारियो को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये। उन्होने कहा 11वीं एवं 12वीं पंचवर्षीय योजना के अन्तर्गत जो भवन व निर्माण कार्य पूर्ण हो गये है, सम्बन्धित विभागो को हैंडओवर करने से पूर्व उस क्षेत्र के उप जिलाधिकारी उस भवन व निर्माण कार्य का निरीक्षण कर फोटोग्राफ सहित अपनी टिप्पणी प्रस्तुत करेंगे।  जिलाधिकारी ने कार्यदायी संस्थाओ के अधिकारियो को निर्देश देते हुए कहा कार्यो की गुणवत्ता से कोई समझौता नही किया जायेगा। उन्होने कहा कार्यदायी संस्था जो भी भवन निर्माण कर रही है, उसमे उच्च कोटि की निर्माण सामग्री प्रयोग करे साथ ही भवन के सौन्द्रयीकरण हेतु बाहर से लाॅन व पेडो को भी लगाये।

उन्होने कहा नये विकास कार्यो की स्वीकृति लेने से पूर्व विकास कार्य हेतु भूमि उपलब्ध है या नही इसका भी पता लगाये। भूमि उपलब्ध होने पर ही उस स्थान पर विकास कार्यो की स्वीकृति कराये। उन्होने कहा 03-04 पर्ष पूर्व जो आंगनबाडी केन्द्र बनकर तैयार हो गये है, आज उनकी स्थिति किस प्रकार है इसके लिए उन सभी आंगनबाडी केन्द्रो के फोटोग्राफ उपलब्ध कराये ताकि उनकी गुणवत्ता का आंकलन किया जा सके।  अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी यशवंत सिह ने बताया जनपद मे 167 कार्यो को स्वीकृत कराने हेतु प्रस्ताव बनाकर शासन को प्रेषित किया जा चुका है।

बैठक मे मुख्य विकास अधिकारी आलोक कुमार पाण्डेय, सहायक अभियन्ता लघु सिंचाई एसके श्रीवास्तव, आरडब्लूडी के अधिशासी अभियन्ता विनोद कुमार, अधिशासी अभियन्ता ब्रिडकुल रविन्द्र सिंह नितवाल, परियोजना प्रबन्धक उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम सीके सकलानी, जिला कार्यक्रम अधिकारी अखिलेश मिश्र सहित अन्य लोग उपस्थित थे।