पेट से जुड़ी कई समस्याओं का समाधान करे अमरूद

devbhoomi-samachar-amrudअमरूद एक ऐसा फल है जो जल्दी किसी को पसंद नहीं आता। मानसून से लेकर सर्दियों तक मिलने वाले इस फल में लोग ज्यादा दिलचस्पी नहीं दिखाते। शायद इसका सस्ता होना ही इसके पसंद न होने की एक वजह है। बच्चों की बात करें तो उन्हें भी अमरूद पसंद नहीं आते। मगर स्वास्थ्य के लिहाज से अमरूद बेहद फायदेमंद है। पेट से जुड़ी सारी समस्याओं से निजात चाहते हैं तो अमरूद का सेवन लाभदायक है।

अमरूद में विटामिन, मिनरल और भरपूर मात्रा में फाइबर होता है। अगर आप अपने शरीर को चुस्त और पतला रखना चाहते हैं तो अमरूद आपके लिए सही विकल्प है। पेट की गर्मी हो या मुंह में छाले, ऐसे में अमरूद की कोमल पत्तियां चबाकर खाने से जल्द ही आराम मिलता है। ‘माउथ अल्सर’ की परेशानी से भी इसकी पत्तियां आराम दिलाती हैं।

अकसर इस भागती-दौड़ती जीवनशैली में तनाव और अनियमित भोजन कब्ज का कारण बनते हैं। ऐसे में अमरूद खाना फायदेमंद होता है। यह कब्ज से छुटकारा दिलाता है। इसमें मौजूद विटामिन ‘ए’ आंखों को और विटामिन ‘सी’ त्वचा को स्वस्थ रखता है। यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है और बीमारियों से दूर रखता है।

मुंहासों से छुटकारा चाहिए तो अमरूद बेहद फायदेमंद है। यह त्वचा में चमक भी बढ़ाता है। डाइटिंग करने वालों के लिए अमरूद बेहद फायदेमंद है। यह बॉडी कोलेस्ट्राल को कम करता है जिससे शरीर का वजन संतुलित रहता है। डायबिटिज, एजिंग कैंसर और किसी भी तरह का संक्रमण दूर करने में अमरूद कारगर है।

खून की नलिकाएं, त्वचा, आर्गन और हडि्डयों की रक्षा करने में अमरूद फायदेमंद है। गुलाबी रंग के अमरूद में लाइकोपिन की मात्रा टमाटर से ज्यादा होती है जो अल्ट्रावायलेट किरणों से त्वचा की रक्षा करता है। इसमें मौजूद पोटाशियम हमारे हर्ट रेट और बल्ड प्रेशर को भी नियंत्रित रखता है।

अमरूद हमेशा ताजा ही खाएं। चाहे तो इसका जूस बना कर पी सकते हैं। अमरूद के टुकड़ों को सलाद के रूप में भी खाया जा सकता है। डेजर्ट में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है। कैंडीज, जेली, जैम में भी अमरूद का इस्तेमाल होता है।