सुबर्द्धन ने ली मेला नियंत्रण कक्ष में समीक्षा बैठक

हरिद्वार। राज्य निर्वाचन आयुक्त सुबर्द्धन ने मेला नियंत्रण कक्ष में  समीक्षा बैठक लेते हुए स्वतंत्र एवं निष्पक्ष त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि लापरवाही को गम्भीरता से लिया जायेगा। निर्वाचन आयुक्त ने निर्देश देते हुए कहा कि पक्षपात से दूर रहें तथा दबाव मुक्त होकर कार्य करें। उन्होंने कहा कि सबसे बड़ा लोकतंत्र होने के कारण हमारा प्रमुख उद्देश्य जनपद में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव कराना होगा। उन्होंने कहा कि हम जिस लोकतांत्रिक व्यवस्था के अन्दर कार्य कर रहे हैं निर्वाचन उसका मूल है। उन्होंने यह भी कहा कि इस त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन में मतदान प्रतिशत में वृद्धि के लिए मतदाताओं में जागरूकता लाई जाए।

राज्य निर्वाचन आयुक्त ने निर्वाचन ड्यूटी में लगे अधिकारियों एवं कर्मचारियों को निर्देश देते हुए कहा कि मतदान प्रक्रिया के सभी कार्य राज्य निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देश के अनुसार किये जाएं। उन्होंने कहा कि जितनी भी मतपेटियां ब्लाकों में भेजी जा रही हैं, उनका भली भाति निरीक्षण कर लिया जाए कि वे सही स्थिति में हैं। उन्होंने समस्त खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि अपने-अपने ब्लाकों में सभी मतपेटियों की जाच कर लें कि वे सही स्थिति में हैं। निर्वाचन आयुक्त ने यह भी निर्देश दिये कि ब्लाक एवं जिला स्तर पर 10-10 प्रतिशत मत पेटियां रिजर्व में रखी जाएं। उन्होंने अति संवेदनशील तथा संवेदनशील बूथों पर विशेष सतर्कता बरतने तथा अतिरिक्त सुरक्षा बल की व्यवस्था करने के निर्देश दिये।

जिला निर्वाचन अधिकारी पंचायत/ जिलाधिकारी हरबंस सिंह चुघ ने बताया कि 47 जिला पंचायत सदस्यों, 221 क्षेत्र पंचायत सदस्यों, 308 ग्राम प्रधानों एवं 3736 ग्राम पंचायत के सदस्यों के लिए तीन चरणों में होने वाले इस त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन के लिए 16 जोन एवं 238 सैक्टर बनाए गये हैं। इस निर्वाचन प्रक्रिया में 833133 मतदाता अपने मत का प्रयोग करेंगे।  जिसमें से 438286 पुरूष मतदाता एवं 394827 महिला मतदाता हैं। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए जनपद में कुल 525 मतदान केन्द्र  तथा 1508 मतदान बूथ बनाए गये हैं। इस पोलिंग में 7540 कार्मिकों की ड्यूटी लगाई गई है।

इस अवसर पर एस.एस.पी. सेंथल अबुदई कृष्ण राज एस., मुख्य विकास अधिकारी  ज्वाइंट मजिस्ट्रेट रूड़की मंगेश घिल्डियाल, एस.पी. सिटी नवनीत सिंह, एस.पी. ग्रामीण प्रमेन्द्र डोभाल, सिटी मजिस्ट्रेट जय भारत सिंह, एस.डी.एम हरिद्वार प्रत्यूष सिंह, एस.डी.एम लक्सर मोहम्मद नासिर, एस.डी.एम भगवानपुर मनीष कुमार, प्रशिक्षण प्रभारी राजेश उपाध्याय एवं समस्त रिर्टनिंग आफिसर एवं प्रभारी अधिकारी उपस्थित थे।