महिलाओं के लिए दून में होगा पावरेड कार्यक्रम का आयोजन

  • देहरादून शहर में 8 मई 2018 को यूपीईएस सेंटर इनोवेशन एंड एंटरप्रेनरशिप में शुरू होगा पावरेड कार्यक्रम
  • उत्तराखण्ड के सशक्त उद्यमी महिलाओं को पावरेड कार्यक्रम के साथ जोड़ा जायेगा

देहरादून। डीएफआईडी इंडिया और शैल फाउंडेशन ने जोन स्टार्टअप इंडिया के साथ साझेदारी करते हुए 25 अप्रैल 2018 को मुंबई में पावरेड एंटरप्रेनरशिप कार्यक्रम का शुभारंभ किया । प्रोग्राम टीम ने अहमदाबाद और दिल्ली का दौरा किया है ताकि कार्यक्रम का प्रचार-प्रसार किया जा सके। अब यह कार्यक्रम उत्तराखण्ड के देहरादून शहर में 8 मई 2018 को शुरू होगा।

पावरेड विश्व भर में अपने तरह का पहला ऊर्जा व्यवसाय है जो महिला उद्यमियों को ध्यान मे रखकर बनाया गया है । पावर एक्सेलेरेटर महिलाओं और उद्यमियों को ऊर्जा दक्षता को बेहतर ढंग से कुशलता के साथ सुधारने में मदद करने के लिए , प्रौद्योगिकियों और व्यावसायिक मॉडल नवाचारों के साथ अभिनव विकास और प्रारंभिक चरण की कंपनियों के निर्माण के लिए उद्यमियों को आमंत्रित करता है। पावर एक्सेलेरेटर का लक्ष्य ऊर्जा से संबंधित आज की आर्थिक समस्याओं का समाधान करना है, और महिला उद्यमियों को सशक्त बनाकर आने वाले अवसरों को संबोधित करते हुए, 17 सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करना हैं।

देहरादून में होने वाले कार्यक्रम के दौरान शैल फाउंडेशन और जोन स्टार्टअप की नेतृत्व टीम मौजूद रह्रें्रगी जो स्थानीय पारिस्थितिक तंत्र से अवगत कराते हुऐ, कार्यक्रम के लाभों पर प्रकाश डालेगी और प्रश्नों उत्तर का भी जबाब देगी। इस दौरान एक ऑन-स्पॉट पिचिंग प्रतियोगिता भी आयोजित की जायेगी, जहां ऊर्जा डोमेन में काम करने वाली महिला नवप्रवर्तनकों को जूरी के सामने अपने व्यावसायिक विचार को व्यक्त करने का अवसर मिलेगा। यह कार्यक्रम यूपीईएस सेंटर इनोवेशन एंड एंटरप्रेनरशिप में होगा। जिसमें विजेता को 10,000 रुपये और दूसरे स्थान पर रहने वाले को 5,000 रुपये का नकद पुरस्कार दिया जायेगा। इस प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए चवूमतमक/्रवदमेजंतजनचे.बवउ पर पंजीकरण करें।

शैल फाउंडेशन के निदेशक सैम पार्कर कहते हैं, ‘इस पारिस्थितिक तंत्र का निर्माण करके जो महिला उद्यमियों के शुरुआती चरण का समर्थन करता है, हम उन महिलाओं के प्रभाव को आगे बढ़ायेंगे और साथ ही एक सशक्त नेतृत्व करने वाली महिला बनायेंगे। उन्हांने बताया कि एक हाइब्रिड प्रोग्राम के रूप में विशिष्ट रूप से सेटअप जिसमें एक सशक्त कार्यक्रम, बूटकैम्प की एक कार्यशालाएं, उद्योग संलग्नक और महिला उद्यमियों का एक समुदाय शामिल है। पावरेड दो समूहों में 30 उद्यमियों का चयन करना चाहता है। कार्यक्रम का उद्देश्य पावरेड क्षेत्र में बड़ी संख्या में महिला उद्यमियों तक पहुंचने के लिए, बूटकैम्प और एक सामुदायिक नेटवर्क के माध्यम से पावरेड स्थान में उद्यमियों के व्यापक समूह के साथ काम करना है।

सैम पार्कर ने कहा कि जोन स्टार्टअप भारत में 2014 में स्थापित हुआ। बीएसई संस्थान, विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग के साथ साझेदारी में जोन स्टार्टअप इंडिया अपने पहले कार्यक्रम से शुरू हुआ, जोन स्टार्टअप एक छोटे से अवधि में बार्कलेज, एक्सिस बैंक, केरल स्टार्टअप मिशन, लोढा समूह, वीजा, ईवाई इंडिया, वायाकॉम 18, एचडीएफसी बैंक और आईसीआईसीआई लोम्बार्ड जैसे प्रमुख भागीदारों के साथ कॉर्पोरेट त्वरक और नवाचार कार्यक्रम स्थापित करने के लिए चलाया गया है।

जोन स्टार्टअप के निदेशक (इंडिया) अजय रामसुब्रमण्यम कहते हैं, ‘‘शैल फाउंडेशन और डीएफआईडी के साथ यह साझेदारी हमारे लिए प्रसंशा कि बात है।’’ ‘‘शैल फाउंडेशन एक वैश्विक लीडर है जो ऊर्जा और आर्थिक विकास को सक्षम बनाता है। हमारी पहली पहल के महिला उद्यमियों के साथ काम करने में हमें अच्छी सफलता मिली है। पावरेड ऊर्जा उद्यमों के क्षेत्रों में उद्यमी बनाने के लिए एक बहुत ही आकर्षक कार्यक्रम है। यह हमारे लिए और अधिक रोमांचक है, इस पहल के माध्यम से, हमने तकनीक और गैर-तकनीकी उद्यमियों के साथ काम करने के लिए अपना ध्यान केंद्रित किया है।’’

सशकितकरण को सफल बनाने के लिए पावरेड छः सप्ताह के आवासीय कार्यक्रम हैं जो उद्योग उद्यमियों, निवेशक सभी शालिम हैं जो खुले उद्योग को सहभागिता को आगे बढ़ाना और नेटवर्क को स्थापित करना हैं। देहरादून के अलावा शैल फाउंडेशन और जोन स्टार्टअप इंडिया गुवाहाटी, चेन्नई, बैंगलोर और हैदराबाद में रोड शो आयोजित करेंगी। इस कार्यक्रम के लिए 18 जून, 2018 तक आवेदन स्वीकार किये जायेगे जो एक समूह के साथ जुलाई, 2018 में लॉन्च होगा।