केन्द्र सरकार के कार्यो से विश्व पटल पर भारत का नाम हुआ रोशन

cm-in-nainital2नैनीताल/देहरादून। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने पंतपार्क, नैनीताल में केन्द्र सरकार के सफलता पूर्वक 3 वर्ष पूर्ण होने पर आयोजित प्रदर्शनी का दीप प्रज्जवलित कर शुभारम्भ किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुये मुख्यमंत्री श्री रावत ने भारत सरकार द्वारा गरीबों व कास्तकारों के लिये संचालित जन-कल्याणकारी योजनाओं की विस्तृत जानकारी देते हुये कहा कि भारत सरकार द्वारा अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, सिंचाई योजना, जल आवास योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, जनधन योजना, मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, उज्जवला योजना, सुकन्या योजना, उजाला योजना जैसी अनेक जनकल्याकारी योजनायें चलाई गयी हैं। उन्होंने कहा कि इन सभी योजनाओं का जनता अधिक से अधिक लाभ उठाये।

मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि केन्द्र सरकार के साहसिक कार्यो से विश्व पटल पर भारत का नाम रोशन हुआ है। उन्होंने कहा कि 2022 तक सभी आवासहीन परिवारों को आवास उपलब्ध कराने का लक्ष्य है। साथ ही पूरे भारत में सड़को का जाल बिछाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पहले एक दिन में मात्र 4 किमी0 सड़क बनाई जाती थी, अब 24 किमी0 प्रतिदिन सड़क बनाई जा रही है। उज्जवला योजना में 5 करोड़ में से 2 करोड़ गरीब परिवारों को गैस संयोजन दिये गये हैं। उन्होंने कहा कि देश में उर्वरक उत्पादन बड़ा है, अब उर्वरक की कोई कमी नहीं है। सभी काश्तकारों को मांग के अनुसार उर्वरक उपलब्ध हो रहा है। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजनान्तर्गत शिक्षित बेरोजगारों को प्रशिक्षित कर रोजगार व स्वरोजगार से जोड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने नोट बंदी कर साहसिक कार्य किया है। साथ ही करीब 15 हजार करोड़ की धनराशि को सीज किया गया है। उन्होंने कहा कि भारत में 15 हजार अविद्युतीकृत गांवों में से 12 हजार गांवों को अभी तक विद्युतीकृत किया गया है। उन्होंने भारत सरकार के तीन वर्षो में किये गये कार्यो पर विस्तृत प्रकाश डाला। प्रदर्शनी में विभिन्न विभागों द्वारा स्टाॅल लगाये गये व जन कल्याणकारी योजनाओं का साहित्य भी वितरण किया गया।

इस अवसर पर मेयर नगरनिगम डा.जोगेन्द्र पाल सिंह रौतेला, उप पुलिस महानिरीक्षक श्री अजय रौतेला, जिलाधिकारी श्री दीपेन्द्र कुमार चैधरी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री जन्मजेय खण्डूरी सहित अन्य अधिकारी व क्षेत्रीय जनता उपस्थित थी।