कृषक गोष्ठी : उत्कृष्ठ एवं उन्नतशील काश्तकारों को सम्मानित किया

DSC02533चम्पावत। कृषि के समग्र विकास तथा उन्नत कृषि तकनीकियों की जानकारी हेतु न्याय पंचायत स्तर पर आज से 03 नवम्बर तक कृषि महोत्सव का आयोजन किया जायेगा। जिला पंचायत अध्यक्ष खुशाल सिंह अधिकारी तथा जिलाधिकारी दीपेन्द्र कुमार चैधरी ने कृषि रथों को हरी झण्डी दिखाकर न्याय पंचायतों के लिए रवान किया। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी, जिला उद्यान अधिकारी तथा कृषि एवं भूमि सरक्षण अधिकारी के नेतृत्व में इन रथों को अलग-अलग विकासखण्डों की न्याय पंचायतों के लिए रवाना किया गया। इस अवसर पर विकास भवन सभागार में आयोजित कृषक गोष्ठी में जनपद के उत्कृष्ठ एवं उन्नतशील काश्तकारों को सम्मानित किया गया।

जिला पंचायत अध्यक्ष खुशाल सिंह अधिकारी ने काश्तकारों को संबोधित करते हुए सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का भरपूर लाभ उठा कर कृषि क्षेत्र को बढ़ावा देने की बात कही तथा सरकार द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि प्रगतिशील किसानों को कृषि यंत्र 80 प्रतिशत छूट पर उपलब्ध किया जा रहा है। उन्होंने अधिकारियों से काश्तकारों की हर समस्या का निराकरण करने के साथ संचालित योजनाओं का लाभ देने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि सरकार पहाड़ों से काश्तकारों का पलायन रोकन के लिए हर सम्भव प्रयास कर रही है।

जिलाधिकारी दीपेन्द्र कुमार चैधरी ने काश्तकारों को संबोधित करते हुए कहा कि कृषि के विकास एवं समस्याओं के समाधान के प्रत्येक 15 दिनों में गोष्ठी का आयोजन किया जायेगा, जिसमें उद्यान, कृषि, पशुपालन, डेयरी, सहकारिता तथा सभी सम्बन्धित विभागों के साथ काश्तकारों की समस्याओं का निस्तारण किया जायेगा तथा जरूरत पडने पर क्षेत्रीय भ्रमण भी किया जायेगा। उन्होंने बताया कि आयोजित कृषि महोत्सव में काश्तकारों को कृषि रथों के माध्यम से पर्याप्त मात्रा में बीज, उपकरण एवं रसायन न्याय पंचायत पर उपलब्ध कराने के निर्देश अधिकारियों को दिये। उन्होंने अधिकारियों को सभी न्याय पंचायत स्तर पर पर्याप्त कृषि यंत्रों, बीजों के साथ जाने के निर्देश दिये। उन्होंने भ्रमण के दौरान क्षेत्र की जटिल समस्याओं एवं उनके समाधान हेतु अपने सुझाव के साथ रिर्पोट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कृषि रथ के साथ जा रहे प्रभारियों को क्षेत्र की परिस्थिति के अनुसार फसल बीज उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होंने काश्तकरों को अपनी बंजर भूमि को उपजाऊ बनाने की अपील की है। उन्होंने बताया कि प्रशासन की तरफ से काश्तकारों को हर सम्भव सहायता दी जायेगी। सेब, नाशपाती, नीबू, संतरा आदि फलों का उचित मूल्य ना मिलने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद में फलों के दोहन व उचित मूल्य हेतु प्रभावी प्रयास जारी हैं।

विकास भवन में आयोजित कृषक गोष्ठी में जिला उद्यान अधिकारी, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी, मुख्य कृषि अधिकारी सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने काश्तकारों को संबोधित कर सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी तथा कृषकों की प्रमुख समस्याऐं सुनकर उनके समाधान के लिए उचित उपाय बताये। इस अवसर पर प्रगतिशील काश्तकार सुरेश बिष्ट को कृषि, रमेश खर्कवाल को उद्यान, हरीश उप्रेती को पशुपालन तथा लक्ष्मण सिंह को मत्स्य पालन हेतु 25-25 हजार रूपये की धनराशि के चैक प्रदान किये गये।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी एसएसएस पांगती, डीएचओ एचसी तिवारी, पीडी केएन तिवारी, मुख्य कृषि अधिकारी आरसी चन्द्रवाल, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी पीएस भण्डारी, जिला पंचायत सदस्य बसन्त पुनेठा सहित सभी सम्बन्धित अधिकारी तथा जनपद के विभिन्न विकासखंडों से आये भारी संख्या किसान/काश्तकार उपस्थित थे।